Loading...

BHOPAL इज्तिमा में आ रहे 10 लाख मुसलमानों के लिए 21 ट्रेनों में विशेष कोच बढ़ेंगे

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में आयोजित होने जा रहे एशिया के सबसे बड़े चार दिनी आलमी तब्लीगी इज्तिमा में आ रहे करीब 10 लाख मुसलमान समाज के लोगों के लिए 21 ट्रेनों में विशेष कोच बढ़ाए जाएंगे। 

फूड जोन में सभी प्रांतों का भोजन मिलेगा

जमातियों समेत अन्य बंदे साउथ इंडियन, कॉन्टिनेंटल और मुगलाई खानों का जायका ले सकेंगे। 22 नवंबर से शुरू हो रहे इज्तिमा में धूम्रपान के सेवन पर भी रोक रहेगी। आयोजन स्थल पर मुख्य पंडाल का 40% काम हो गया है, जबकि पार्किंग का काम चल रहा है। 72वें इज्तिमा में आने वाला विभिन्न प्रांतों की जमातें इस बार अपने राज्यों के जायके का लुत्फ भी उठा सकेंगे। खासतौर पर दक्षिण भारत के प्रांतों की जमातों को ध्यान में रखते हुए उत्तम, डोसा, इडली, सांबर बड़ा जैसे खानों का इंतजाम कराया जा रहा है। उत्तर भारतीयों के लिए यहां मुगलाई जायका और कॉटीनेंटल फूड भी होगा। पूर्वोत्तर राज्यों एवं विदेशी जमातों की मंशा अनुसार जायका भी मुहैया कराने की तैयारी है। फूड जोन के लिए आयोजन समिति ने 11 नवंबर तक ऑफर बुलाए हैं। इसमें समिति जमीन किराया एवं पानी उपलब्ध कराने का कोई चार्ज नहीं लेगी, लेकिन शर्त यही रहेगी कि सिंगल यूज प्लास्टिक का उपयोग नहीं किया जाएगा। स्वच्छता का खास ख्याल रखना होगा।

इज्तिमा के लिए भोपाल आने-जाने वाली 21 ट्रेनों में बढ़ेंगे कोच 

इज्तिमा के लिए भोपाल आने-जाने वाली 21 ट्रेनों में क्षमता के अनुसार कोच बढ़ाए जाने का निर्णय लिया गया है। इसके लिए प. मध्य रेलवे ने आदेश जारी कर दिए हैं। डीआरएम भोपाल उदय बोरवणकर के अनुसार इसकी जानकारी इज्तिमा कमेटी को भी आदेश की कॉपी के साथ सौंप दी गई है। ट्रेनों में 25, 26 और 27 नवंबर को एक से लेकर 2 कोच तक क्षमता के अनुसार बढ़ाए जाएंगे।

10 नवंबर को होगी समीक्षा, 10 लाख बंदे आएंगे

इज्तिमा स्थाल पर काम जोरों से चल रहा है। व्यवस्था संबंधी ज्यादातर काम 10 नवंबर तक पूरे हो जाएंगे। इसी दिन कामों की समीक्षा भी होगी। समिति ने प्रशासन को बताया है कि इस बार 10 लाख बंदों की शिरकत का अनुमान है। आयोजकों की मानें को इज्तिमा के अंतिम दिन सामूहिक दुआ के अवसर पर यह आंकड़ा और बढ़ जाएगा।