Loading...

INDORE NEWS: बेटा-बहु माँ को हॉस्पिटल में ढूंढते रहे, घर पहुंचे तो मिला शव, लूट के बाद हत्या

इंदौर। क्रांति कृपलानी नगर के पास जयजगत कॉलोनी में कल रात 70 वर्षीय महिला को पहले लूटा और उसके बाद हत्या कर दी। महिला अकेली रहती थी। पुलिस को आशंका है कि किसी परिचित ने घटना को अंजाम दिया है और उसे लूट दिखाने की कोशिश की है। शहर में बीते तीन दिनों के भीतर यह दूसरी हत्या है। 

पुलिस के अनुसार, जयजगत कॉलोनी में रहने वाली 70 वर्षीय प्रेमाबाई झमटानी (Premabai Jhamtani) अपने मकान में अकेली रहती थीं। उनके पति ईश्वर झमटानी का लगभग 10 साल पहले ही देहांत हो गया था। तब से ही अकेले रह रही थीं। प्रेमाबाई के बड़े बेटे सुरेश झमटानी (Suresh Jhamtani) ट्रेडिंग का काम करते हैं और बिचौली में रहते हैं। बेटे सुरेश ने बताया मां नियमित सत्संग जाती थी, लेकिन शनिवार को नहीं गईं। दिनभर भी वे बाहर नहीं दिखी तो पड़ोस में रहने वाली एक महिला ने मेरी पत्नी कशिश को फोन कर बताया। कशिश ने मेरी मां के मोबाइल पर रात आठ बजे कॉल किया तो किसी पुरुष ने फोन उठाया तो उसने पूछा कि यह तो मेरी सास का फोन है, आप कौन हैं? इस पर उस आदमी ने कहा- आपकी सास सुबह 11 बजे से बेहोश हैं और अरबिंदो अस्पताल में भर्ती हैं। कमरा नंबर पूछा तो 102 कहा। 

हम दोनों अरबिंदो अस्पताल पहुंचे तो वो बच्चों का वार्ड था। पूरे अस्पताल में मेरी मां नहीं मिली। हमने कई और अस्पताल भी छाने। इसके बाद अन्नपूर्णा वाले घर आए। हम थाने जाने वाले थे, लेकिन पड़ोसी ने कहा कि एक बार घर में देख लें। घर के सामने के सभी दरवाजे बंद थे। हम किसी तरह बालकनी से भीतर पहुंचे तो पहली मंजिल के हॉल में मां का शव पड़ा हुआ था। उनके मुंह पर टेप और शव ढंका हुआ था अंदर के कमरे में पंखे पर फांसी का फंदा भी बना हुआ था। रात लगभग 11.24 बजे मैंने पुलिस को सूचना दी। सुरेश के मुताबिक वे दो भाई हैं। छोटा भाई दीपक 2015 से गायब है। वो भी लंबे समय तक माता पिता से दूर मुंबई में रहता था। 2014 में वो इंदौर वापस आया लेकिन उनसे अलग ही रहता था।