Loading...

BHOPAL के ताल के बीच म्यूजिकल फ्लोटिंग फाउंटेन में पहली बार वाटर फिल्म चली

भोपाल। बड़े तालाब में जीवन वाटिका पार्क के सामने 200 मीटर भीतर लगाए गए म्यूजिकल फ्लोटिंग फाउंटेन की शनिवार को टेस्टिंग की गई। जैसे ही 90 मीटर ऊंचे और 10 मीटर चौड़े इस फाउंटेन की वाटर फिल्म चालू हुई....उस पर लिखा आया शुभ दीपावली।

टेस्टिंग के लिए दोपहर से ही दिल्ली से लेकर भोपाल तक के इंजीनियरों की टीम जुटी हुई थी। शाम को जब यह टेस्टिंग हुई उस समय नगर निगम कमिश्नर बी विजय दत्ता मौके पर मौजूद थे। लगभग 6 करोड़ 54 लाख रुपए की लागत से तैयार हुए इस फाउंटेन के लिए फरवरी 2017 में निर्माण शुरू हुआ था। तय शेड्यूल के हिसाब से इसे जून 2017 में ही पूरा हो जाना था। लेकिन कभी निगम के वित्तीय संकट तो कभी तकनीकी दिक्कतों और बाद में तालाब के सूख जाने के कारण यह फाउंटेन चालू नहीं हो सका। हालांकि निगम  इस ठप पड़े प्रोजेक्ट को दोबारा पटरी पर लेकर आया है। अब एम्फीथिएटर और फाउंटेन सब तैयार है। 

116 थ्री डी नोजल लगे हैं

 सिटी इंजीनियर ओपी भारद्वाज ने बताया कि इसकी विशेषता यह है कि इसमें 116 थ्री डी नोजल लगे हैं। इतनी संख्या में यह अत्याधुनिक नोजल देश में कहीं नहीं हैं। 
इसमें 45 नोजल 2डी भी होंगे। यह सभी कम्प्यूटर द्वारा संचालित होंगे।
अब तक देश में सबसे बड़ा फ्लोटिंग फाउंटेन 800 वर्ग मीटर का है जो साइंस सिटी अहमदाबाद में है।

बच्चों के स्पेशल शो से करेंगे शुरुआत

फ्लोटिंग फाउंटेन की टेस्टिंग की गई है। तकनीकी रूप से फाउंटेन पूरी तरह तैयार है। नवंबर के पहले सप्ताह में इस फाउंटेन का शुभारंभ करने की योजना है। हम बच्चों के स्पेशल शो से इसकी शुरुआत करेंगे। -बी विजय दत्ता, कमिश्नर, नगर निगम