Loading...

JEE Main: रजिस्ट्रेशन शुरू, पैटर्न बदला, इस बार पेपर 3 भी होगा

नई दिल्ली। JEE (Main) January 2020 की तैयारी कर रहे उम्मीदवारों के लिए बड़ी खबर है। 3 सितम्बर से रजिस्ट्रेशन शुरू हो गया है लेकिन इस बार कई बड़े बदलाव किए गए हैं। अभी से तैयारियां करनी होंगी नहीं तो बाद में पछताने के अलावा कोई रास्ता नहीं रह जाएगा। 

सवालों की संख्या कम की गई है

घोषणा की गई कि इस बार परीक्षा में छात्रों को भौतिकी (फिजिक्स), रसायन (केमिस्ट्री) और गणित (मैथमैटिक्स) के कम सवालों का सामना करना पड़ेगा। इस लिहाज से छात्रों के लिए जरूरी है कि वे इस नए प्रारूप को समझें और इसके मुताबिक तैयारी करें। जहां जेईई मेन की परीक्षा के स्ट्रक्चर में बदलाव हुआ है, वहीं इस बार बी प्लानिंग कोर्स के लिए एक अलग पेपर भी जारी कर दिया गया है।

नैशनल टेस्टिंग एजेंसी ने बी प्लानिंग कोर्सों के लिए नया पेपर जारी किया

पहले जेईई मेन की परीक्षा सिर्फ दो पेपरों के लिए आयोजित की जाती थी। पहला पेपर उन छात्रों के लिए था जो बी. टेक कोर्सों में ऐडमिशन लेना चाहते हैं, जबकि दूसरा पेपर उन छात्रों के लिए था जो या तो बैचलर ऑफ आर्किटेक्चर (B.Arch) या फिर बी प्लानिंग के कोर्स में ऐडमिशन चाहते थे। लेकिन अब नैशनल टेस्टिंग एजेंसी ने बी प्लानिंग कोर्सों में ऐडमिशन पाने के लिए एक नया पेपर जारी किया है। 

किस स्ट्रीम के लिए कौन सा पेपर देना होगा

अब छात्र चाहे तो तीनों पेपर दे सकते हैं या फिर अपनी स्ट्रीम के चुनाव के आधार पर किसी भी पेपर में उपस्थित हो सकते हैं। अगर बी.टेक में ऐडिमशन लेना है तो छात्रों को पेपर वन देना होगा, बी. आर्क में ऐडमिशन चाहते हैं तो पेपर 2 और अगर बी प्लानिंग के कोर्स में ऐडमिशन लेना है तो उन्हें तीसरा पेपर देना होगा। 

पेपर 3 का पैटर्न क्या होगा

पेपर 3, जो कि बी प्लानिंग के कोर्स के लिए जारी किया गया है, इसमें प्रश्न पत्र के पहले दो भाग बैचलर ऑफ आर्किटेक्चर के जैसे होंगे, जबकि तीसरे भाग में प्लानिंग से संबंधित सवाल आएंगे। पूरा पेपर ऑनलाइन होगा। इसलिए छात्र अच्छी तरह से अपने ऑब्जेक्टिव्स और विषयों के हिसाब से पेपर की तैयारी करें। हालांकि वे यह भी देख लें कि किस संस्थान में बी प्लानिंग का कोर्स है और किसमें नहीं।