Loading...

CRESCENT RESORT में IT इंजीनियर सहित 4 शव मिले, आत्महत्या या हत्या | INDORE NEWS

इंदौर। क्रिसेंट वाटर पार्क (Crescent Water Park) में अपोलो डीबी सिटी (Apollo DB City) में रहने वाले इंजीनियर, उसकी पत्नी व दो बच्चों के शव बरामद हुए हैं। पुलिस इसे आत्महत्या (Suicide) मानकर चल रही है परंतु मौके से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। मौत का कारण जहर माना जा रहा है। यह जांच का विषय है कि आईटी इंजीनियर अभिषेक सक्सेना (IT engineer Abhishek Saxena) परिवार जहर खाने के लिए रिसॉर्ट आया था या उसे रिसॉर्ट में बुलाकर धोखे से जहर खिला दिया गया। 

प्रबंधन ने बिना पुलिस के मास्टर चाबी से दरवाजा खोल लिया

क्रिसेंट वाटर पार्क में रिसॉर्ट (Resort at Crescent Water Park) है जहां मेहमान किराए के कमरे लेकर रुकते हैं। डीबी सिटी में रहने वाले अभिषेक सक्सेना (45) ने एक दिन पहले ही कमरा किराए पर लिया था। गुरुवार को परिवार के लोग कमरे से बाहर नहीं आए तो शाम के समय रिसॉर्ट प्रबंधन सक्रिय हुआ। काफी प्रयास के बाद भी जब अंदर से बंद कमरे को नहीं खोला तो मास्टर चाबी का इस्तेमाल कर दरवाजे को खोला गया।

चारों का शरीर नीला था, पास में एक केमिकल भी मिला

दरवाजा खोलने पर चार लोगों के शव कमरे के अंदर दिखे, तो खुड़ैल पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस के मुताबिक, मृतकों की शिनाख्त अभिषेक सक्सेना (45), उनकी पत्नी प्रीति सक्सेना (42), बेटे अद्वित (14) व बेटी अन्यया (14) (Preeti Saxena (42), son Advait (14) and daughter Ananya) के रूप में हुई। चारों का शरीर नीला पड़ गया था। पास में एक केमिकल रखा था जिसका सेवन कर आत्महत्या की बात सामने आ रही है ।

FSL टीम ने की जांच

पुलिस की एफएसएल टीम ने भी मौके पर पहुंच कर जांच की। पुलिस को पता चला कि अभिषेक आईटी इंजीनियर थे और परिवार के साथ घूमने के लिए आए थे। अभिषेक के परिवार में बुजुर्ग मां है जो घर पर ही थी। पुलिस ने उन्हें व अन्य रिश्तेदारों को सूचना देकर बुलाया। पुलिस लगातार आत्महत्या की थ्योरी पर काम कर रही है जबकि पीएम रिपोर्ट और कई अनसुलझे सवालों के जवाब मिलना शेष हैं। सबसे बड़ा सवाल तो यह कि अभिषेक पूरे परिवार के साथ रिसॉर्ट में क्यों आए थे। सीसीटीवी फुटेज एवं अभिषेक की मृत्यु पूर्व गतिविधियां काफी कुछ स्पष्ट कर देंगी। सीडीआर की जांच भी जरूरी है।