Loading...

MP के सभी निगम कमिश्नर/CMO सुबह 6 बजे शहर की साफ-सफाई करवाएं: विकास मंत्री | MP NEWS

भोपाल। नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री जयवर्द्धन सिंह (Minister Mr. Jayawardhan Singh) ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग (video conferencing) के माध्यम से 378 नगरीय निकायों की समीक्षा के दौरान निर्देशित किया है कि सभी नगर निगम आयुक्त और मुख्य नगर पालिका अधिकारी (Municipal Corporation Commissioner and Chief Municipal Officer) सुबह 6 बजे से फील्ड में निकलें और साफ-सफाई की मॉनीटरिंग करें। वे खुद टीम को लीड करें। स्वच्छ सर्वेक्षण (Clean survey) में प्रदेश को देश में नम्बर एक राज्य बनाना है। 

बाजार में सुबह-शाम सफाई करें

श्री सिंह ने कहा कि सफाई मित्रों से सतत् संवाद करें। उनकी समस्याओं को भी सुनें। उन्होंने कहा कि बाजार में सुबह-शाम सफाई हो। उन्होंने कहा कि गीला और सूखा कचरा अलग-अलग करने की समझाइश देने के लिए मुहल्लों में नागरिकों के साथ भी मीटिंग करें।

खराब सड़कें जल्द ठीक करें

नगरीय विकास एवं आवास मंत्री ने कहा कि अति-वृष्टि के कारण खराब हुई सड़कों की मरम्मत जल्द करवायें। उन्होंने कहा कि खराब सड़कों से शहर की छवि खराब होती है। श्री सिंह ने कहा कि सड़कों को धूल मुक्त करें। इसके लिए घरों और सड़क के बीच के स्थान पर पेबिंग ब्लॉक लगवायें। सामुदायिक शौचालयों में पानी और साबुन रखें। उन्होंने कहा कि आवारा पशुओं को शहर से बाहर निर्धारित स्थलों में रखें।

प्रति सप्ताह करें मॉनीटरिंग

श्री सिंह ने कहा कि निर्धारित चार्ट एवं घटकों के अनुसार नगरीय निकायों में किये जा रहे कार्यों की समीक्षा प्रति सप्ताह करें। उन्होंने कहा कि शहर में स्थित वाटर बाडी की सफाई करवायें। इससे जल जनित रोगों से छुटकारा मिलने के साथ ही स्वच्छ सर्वेक्षण में नम्बर भी बढ़ेंगे।

7-स्टार रेटिंग का लक्ष्य बनायें

प्रमुख सचिव नगरीय विकास एवं आवास श्री संजय दुबे ने कहा कि नगरीय निकाय 7-स्टार रेटिंग का लक्ष्य तय करें। उन्होंने कहा कि वेस्ट वाटर को रिसायकल कर 30 प्रतिशत तक रियूज करें। इस पानी का निर्माण कार्यों और गार्डन में उपयोग हो सकता है।

श्री दुबे ने कहा कि वे सुबह किसी भी समय वीडियो कॉलिंग के माध्यम से अधिकारियों की लोकेशन ले सकते हैं। इस दौरान प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री आवास सहित अन्य योजनाओं की भी समीक्षा की गयी। इस दौरान उप सचिव श्री मनीष सिंह, एडिशनल कमिश्नर श्री आशीष सक्सेना एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।