Loading...

पड़ोसन नजर रखती थी, इसलिए उसकी बेटी को मार डाला | BHOPAL NEWS

भोपाल। भोपाल से अपहृत की गई डेढ़ साल की मासूम बेटी का शव मिला था। पुलिस ने दावा किया है कि उसने हत्यारे को भी गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस का दावा है कि पड़ोस में रहने वाली महिला अनुषा पाल ने लड़की की हत्या की है क्योंकि अनुषा के यहां कुछ लोग आते जाते थे और बच्ची की मां मोहिनी मालवीय अक्सर इस पर सवाल जवाब करती रहती थी। 

अनुषा पाल के यहां आने जाने वाले लोगों पर सवाल करती थी मोहिनी

भोपाल (शहर) के पुलिस उप महानिरीक्षक इरशाद वली ने यहां संवाददाताओं को बताया कि हर्षिता उर्फ टकू (डेढ़ साल) के अपहरण और उसकी हत्या के मामले में उसकी पड़ोसी अनुषा पाल (40) को पुलिस ने बृहस्पतिवार को गिरफ्तार किया। उन्होंने कहा कि हर्षिता की मां मोहिनी मालवीय द्वारा अनुषा के घर में आने जाने वाले लोगों का विरोध करने के कारण दोनों में रंजिश चल रही थी। इसी रंजिश के चलते उसने इस बच्ची का कत्ल करने की योजना बनाई। 

फुसलाकर ले गई, शव को कचरे से ढंक दिया

वली ने बताया कि पुलिस को पड़ोस में रहने वाली अनुषा पर शक हुआ। पूछताछ की तो उसने उगल दिया कि हर्षिता की उसने हत्या कर दी है। इसके बाद उसके बताये गये स्थान से बच्ची का शव बरामद किया गया। उन्होंने कहा कि आरोपी ने बच्ची का बुधवार दोपहर उस वक्त अपहरण किया, जब वह अपने घर के पास खेल रही थी। इसके बाद उसे बिस्कुट खिलाकर बहला फुसलाकर पास के नारायण नगर के पास झाड़ियों में ले गई और मुंह दबाकर उसकी हत्या कर दी एवं शव को कचरे के पन्नियों से ढक कर छिपा दिया था।