Loading...

अतिथि शिक्षकों को अब तक अप्रैल का वेतन नहीं मिला | ATITHI SHIKSHAK

रायसेन। रायसेन जिले के उदयपुरा ब्लाक के संकुल केन्द्र शास. कन्या.उ.मा.विधालय में बाबूओं की लापरवाही के चलते अतिथि शिक्षकों को अगस्त 2019 में मार्च 2019 का वेतन मिला था और अभी तक अप्रैल माह का वेतन नहीं मिल पाया है जिसके लिए वे अधिकारियों से फरियाद करते फिर रहे हैं।

वही वरिष्ठ शिक्षाधिकारियों के आदेशानुसार अतिथि शिक्षकों की विद्यालयों मे ज्वाइनिंग 9 जुलाई 2019 से होना थी परंतु शास.कन्या.उ.मा.विधालय संकुल केन्द्रं उदयपुरा जिला रायसेन मे 17 जुलाई से अतिथि शिक्षकों की पोर्टल पर एंट्री प्रारंभ की गई जबकि कई स्कूलों के अतिथि शिक्षक नियुक्ति संबंधी प्रस्ताव पूर्व से संकुल पर जमा थे व अतिथि शिक्षक 9 जुलाई से विधिवत विधालयों मे सेवा दे रहे थे फिर भी पोर्टल पर लेट एंट्री की गई। जिससे कई अतिथि शिक्षकों को माह जुलाई 2019 में दो-ढाई हजार रूपये तक की वेतन संबंधी हानि हो रही है।

लापरवाह बाबूओ के कारण अतिथिशिक्षकों का शोषण हो रहा है व शिक्षा विभाग मौन है सरकार ने अतिथिशिक्षकों को कर्मचारी संबंधी अधिकारों से वंचित रखा है जिससे वर्षों सेवा देने के बाद भी अतिथिशिक्षक शोषण का शिकार बन रहे है उन्हे शासन अल्प मानदेय देता है लापरवाह कर्मचारियों के कारण उसमें भी कटौती हो जाती है जिसका खामियाजा अतिथिशिक्षक भुगत रहे है अत: जिलाधीश महोदय एवं जिला शिक्षाधिकारी रायसेन मामले की विधिवत जांच कराए एवं अतिथि शिक्षकों को पूरा मानदेय दिलाकर न्याय प्रदान करें। इसके लिए उदयपुरा ब्‍लाक संकुल केन्‍द्र शास.कन्‍या.उ.मा.विधालय के अंर्तगत आने वाले अतिथिशिक्षक तहसीलदार एवं ब्‍लाक शिक्षाधिकारी महोदय को ज्ञापन देकर अवगत करा चुके है।