Loading...

गोपाल चिल्लर प्लांट के संचालक राजीव गुप्ता पर 10 हजार रुपए का इनाम घोषित | MP NEWS

भिंड। नकली व मिलावटी दूध और पनीर का कारोबार कर लोगों की जिंदगी को खतरे में डालने वाले गोपाल चिल्लर प्लांट के संचालक राजीव गुप्ता पर एसटीएफ की ओर से 10 हजार रुपए का नगद इनाम घोषित किया गया है। आरोपित चिल्लर प्लांट पर कार्रवाई के बाद से फरार है। इनाम घोषित होने के बाद अब पुलिस उसकी सम्पत्ति का ब्योरा जुटा रही है। जल्द ही धारा 82, 83 के तहत कुर्की की कार्रवाई के लिए प्रस्ताव तैयार किया जाएगा।

दूध, पनीर, मावा सहित अन्य डेयरी उत्पादों में मिलावट को लेकर पिछले महीने एसटीएफ ने मुरैना के अंबाह व भिंड के लहार में ताबड़तोड़ कार्रवाई की थी। जहां अंबाह के वनखंडेश्वर डेयरी पर काफी मात्रा में मिलावट का खेल मिला था। वहीं भिंड के लहार स्थित गोपाल डेयरी एवं चिल्लर प्लांट पर भी बड़ी मात्रा में मिलावटी दूध, पनीर मिला था। एसटीएफ ने इस मामले में थाना एसटीएफ भोपाल अपराध क्रमांक 12/19 के चलते धोखाधड़ी की धाराओं में मामला दर्ज किया था। तभी से लगातार एसटीएफ भोपाल, ग्वालियर की टीमें आरोपितों व उनके पूरे चैनल को ध्वस्त करने में जुटी हुई है। 

अंबाह मामले में 4 गिरफ्तारी हो चुकी है, लेकिन भिंड लहार मामले में एक दो बिचौलियों के अलावा अभी तक कोई बड़ा नाम अभी तक नहीं पकड़ा गया है। गोपाल डेयरी व चिल्लर प्लांट के संचालक राजीव गुप्ता छापामारी के बाद से फरार है। वह अपने संबंधों का फायदा उठाकर लगातार एसटीएफ को चकमा दे रहा है। इसी के चलते एसटीएफ के अफसरों ने आरोपित राजीव गुप्ता पुत्र बिट्ठन लाल गुप्ता निवासी गांव टोला रावतपुरा सरकार जिला भिंड पर इनाम घोषित करने प्रस्ताव विभाग को भेजा था। जिस पर बुधवार को अन्तिम मुहर लग गई है। आरोपित राजीव गुप्ता पर 10 हजार रुपए का नगद इनाम घोषित किया गया है।

एसटीएफ को इनाम घोषित होने के साथ ही 60 दिन में चालान पेश करना होगा। ऐसे में मिलावटी दूध का कारोबारी राजीव गुप्ता सरेंडर नहीं करता है या पकड़ा नहीं जाता है तो उसकी संपत्ति कुर्क के लिए कार्रवाई की जाएगी। एसटीएफ के अफसर राजीव गुप्ता की संपत्ति का ब्योरा एकत्रित कर रहे हैं। जल्द उस पर धारा 82, 83 के तहत कार्रवाई करेगी।