Loading...

MPTWTA: गुस्साए शिक्षकों ने रैली निकाली, धरना दिया

धार। मप्र ट्रायबल वेलफेयर शिक्षक एसोसिएशन के बैनर तले धार जिले के अध्यापक संवर्ग से नए कैडर में आए शिक्षकों ने स्थानीय समस्याओं को लेकर बुधवार को सुबह 11 बजे कलेक्टर कार्यालय के सामने धरना दिया और विशाल जनसमूह के साथ रैली निकालते हुए कलेक्टर के नाम सिटी मजिस्ट्रेट दिव्या पटेल को ज्ञापन सौंपा। इसके पश्चात आदिम जाति कल्याण विभाग के सहायक आयुक्त बृजेश कुमार पांडे शिक्षको से मिले और वेतन सहित अन्य समस्याओं का निराकरण जल्द ही करने का आश्वासन दिया। 

मप्र ट्रायबल वेलफेयर एसोसिएशन के प्रांतीय उपाध्यक्ष और राज्य अध्यापक संघ के जिला अध्यक्ष मुकेश पाटीदार के नेतृत्व में सैकड़ों अध्यापक सुबह से ही धार पहुंच गए थे। जिला प्रवक्ता इरफान मंसूरी व मीडिया प्रभारी योगेश चौहान ने बताया कि कलेक्टर के नाम सौंपे गए ज्ञापन के माध्यम से शासन और प्रशासन से मांग की गई कि एम्पलाई कोड के अभाव में जिले के सैकड़ों अध्यापकों को 6 माह से रुके हुए वेतन का शीघ्र भुगतान किया जाए। 

जिले के समस्त नए कैडर के शिक्षकों को छठे वेतनमान की दूसरी किश्त का शीघ्र भुगतान किया जाए। हड़ताल अवधि वर्ष 2015 का भुगतान शीघ्र किया जाए। जुलाई 2018 व जनवरी 2019 का डीए एरियर का शीघ्र भुगतान किया जाएं। ग्रीन कार्ड धारकों को विशेष वेतनवृध्दि का लाभ दिया जाए। गुरुजी को नियुक्ति दिनांक से वरिष्ठता दी जाए। अतिथि शिक्षकों को 4 माह से लंबित वेतन का शीघ्र भुगतान किया जाए। 

इस अवसर पर धार ब्लाॅक अध्यक्ष परितोष उपाध्याय, डही ब्लाॅक अध्यक्ष स्वरुपचंद मालवीया, सरदारपुर ब्लाॅक अध्यक्ष गौरव निगवाल, कुक्षी ब्लाॅक अध्यक्ष शिवराम पाटीदार, बाग ब्लाॅक अध्यक्ष विजय भावसार, धरमपुरी ब्लाॅक अध्यक्ष सुनील पटेल, उमरबन ब्लाॅक अध्यक्ष देवेन्द्र सोलंकी, शिरीन कुरैशी, शैलेष मालवीय, योगेंद्र पांडेय,मनीष शुक्ला, सनत मिश्र, प्रमोद पांडेय,कैलाश जाट, योगेंद्र तोमर, शंकर गहलोत, भारती वर्मा, कल्पना डावर, शकुंतला सोनी, नीता राठौर, जीनत शेख, रंजना वर्मा सहित बड़ी संख्या में महिला-पुरुष शिक्षक शामिल थे।