Loading...

किराए पर है मकान /दुकान तो सस्ता लोन मिलेगा | LOW INTEREST LOAN FOR LANDLORD

नई दिल्ली। जरा कल्पना कीजिए आपके पास कमाई के सीमित साधन हैं और आपको तत्काल पैसों की जरूरत है, तो आप क्या कीजिएगा। जाहिर तौर पर आप लोन लेने की जुगत भिड़ाएंगे। लेकिन आज के समय में लोन लेना भी आसान काम नहीं रह गया है। बैंक आपको लोन देने के पहले आपके क्रेडिट स्कोर यानी आपके लोन चुकाने की क्षमता को कई बार चेक करता है। उसके बाद जाकर तमाम फॉर्मेलिटीज को पूरा कर वह आपको लोन देने को तैयार होता है। ऐसे में अगर आपके पास खुद का बड़ा सा मकान है तो आपका काम काफी आसान हो सकता है। हम आपको इसी की पूरी जानकारी दे रहे हैं। जी हां हम बात कर रहे हैं किराए पर मिलने वाले लोन के बारे में। हमने इस विषय पर टैक्स एक्सपर्ट और इन्वेस्टमेंट एडवाइजर बलवंत जैन से विस्तार से बात की है।

कौन उठा सकता है किराए के एवज में मिलने वाले लोन का फायदा / Who can take advantage of the loan received in lieu of rent

बलवंत जैन ने बताया कि अगर आपके पास कर्मशियल या रेजिडेंशियल प्रॉपर्टी है तो आप इस सुविधा का लाभ उठा सकते हैं। इसमें प्रॉपर्टी का मालिक एक व्यक्ति या वह संयुक्त ओनर हो सकता है। ज्वाइंट ओनरशिप के मामले में सभी ओनर्स को लोन के लिए आवेदन देना होगा। यह लोन सुविधा ऐसी परिसंपत्तियों के लिए उपलब्ध है जिसे किराए पर दिया जा चुका है और जिसके लिए करार भी किया जा चुका है।

किराए के एवज में लोन लेने का मकसद? / Purpose of loans in lieu of rent

बलवंत जैन बताते हैं कि किराए के एवज में लिए जाने वाले लोन का उद्देश्य भविष्य में किसी भी जरूरत के लिए किया जा सकता है। जैसे कि घर खरीदने के लिए, बिजनेस बढ़ाने के लिए या फिर अपने बच्चों की पढ़ाई या उनकी शादी के लिए। इसके साथ ही इसका इस्तेमाल घर की मरम्मत या प्रॉपर्टी के रेनोवेशन के लिए भी किया जा सकता है। इसके साथ ही बैंक आपको यह अनुमति भी देता है कि आप इन पैसों का इस्तेमाल अपने मौजूदा लोन के भुगतान के लिए भी करें।

किस तरह की प्रॉपर्टी के किराए पर मिलता है लोन?

आप इस तरह के लोन की सुविधा एक कमर्शियल प्रॉपर्टी पर उठा सकते हैं जिसे या तो किराए पर दिया गया है या फिर किसी पट्टेदार को पट्टे पर दिया गया हो जैसे कि किसी गवर्मेंट अंडरटेकिंग को, किसी बैंक को, इंश्योरेंस कंपनी को या फिर किसी बड़े खुदरा कारोबारी को। आप इस तरह की लोन की सुविधा रेजिडेंशियस प्रॉपर्टी पर भी पा सकते हैं।

किन दस्तावेजों की होती है जरूरत? / Which documents are needed

इस तरह के लोन के लिए आपको बेसिक केवाईसी डॉक्यूमेंट्स जमा कराने होंगे जैसे कि एड्रेस प्रूफ, आइडेंटिटी प्रूफ आदि। ये आपको एप्लीकेशन फॉर्म के साथ जमा कराने होंगे। बैंक आपके भुगतान की क्षमता का प्रमाणपत्र भी मांग सकता है। अगर आपके पास आईटीआर उपलब्ध नहीं है तो नौकरीपेशा लोगों के लिए फॉर्म 16 ही काफी होगा।