Loading...

दीपक का धर्मांतरण कराने सास ने अपनी ही बेटी को बंधक बना लिया | INDORE NEWS

इंदौर। दीपक और शहनाज की लव स्टोरी में शादी और संतान के बाद ट्विस्ट आ गया। दोनों ने 2016 में लव मैरिज की थी। 2017 में उनको एक बेटी हुई लेकिन 2019 में शहनाज की मां ने उसे अपने ही घर में बंधक बना लिया। शर्त रखी है कि यदि दीपक अपना धर्म परिवर्तन करके मुसलमान बन जाए तब ही वो अपनी बेटी को उसके साथ जाने देगी। 

द्वारकापुरी में रहने वाले दीपक ने कलेक्टर से मदद की गुहार लगाई है। दीपक का कहना है कि 17 जून 2016 को प्रियंका उर्फ शहनाज के साथ आर्य समाज मंदिर औरंगाबाद (महाराष्ट्र) में उसका विवाह हुआ था। 28 जुलाई 2017 को उनकी एक बेटी भी हुई। कुछ दिनों तक सब कुछ ठीक चला, लेकिन 2 जुलाई 2019 प्रियंका अपने पति और बेटी पीहू को सोता हुआ छोड़कर चली गई।

दीपक ने जब तलाश शुरू की तो पता चला कि वह अपनी मां के घर में है। जब वह अपनी बीवी को लेने अपने ससुराल पहुंचा तो उसकी मां रुकैया बी और उसकी बहनें उसके साथ मारपीट करने लगे। पत्नी के परिवार वालों का कहना है कि तू पहले अपना धर्म बदल, तब हम तेरी पत्नी को भेजेंगे। इस पर जब दीपक ने कहा कि बच्ची अपनी मां के लिए रो रही है, तब भी उनका दिल नहीं पसीजा। यहां तक कि किसी ने उसे उसकी पत्नी से मिलने तक नहीं दिया।

सास आने नहीं दे रही

इधर, दीपक का कहना है कि उनकी दो साल की बेटी पीहू अपनी मां को याद कर उठ-उठकर बैठ जाती है। स्थिति यह है कि वो बेटी को पत्नी के पास छोड़ भी नहीं सकता, क्योंकि वहां का माहौल ठीक नहीं है। ऐसे में बेबस पति ने अपनी पत्नी को सास के चंगुल से छुड़वाने की गुहार लगाई है। ताकि बच्ची को उसकी मां मिल जाए। दीपक ने यहां तक कहा कि उसकी पत्नी आना चाहती होगी, लेकिन उसे दबाकर रखा गया होगा।