Loading...

पति की FIR करने पुलिस के पास गई थी, इंस्पेक्टर ने रेप किया, VIDEO बनाया

नई दिल्ली। गुड़गांव के सदर थाना एसआई इंस्पेक्टर दलबीर के खिलाफ एक विवाहित महिला ने जींद में बलात्कार और ब्लैकमेल करने का मामला दर्ज कराया है। युवती का कहना है कि वो अपने पति की प्रताड़ना से तंग आकर एफआईआर लिखाने आई थी। वहीं इंस्पेक्टर मिल गया। फिर उसने साजिश रचकर उसका रेप किया, वीडियो बनाया, शराब पिलाई और ब्लैकमेल कर रहा है। 

पति के खिलाफ FIR लिखाने आई थी, वही इंस्पेक्टर मिल गया

महिला की शादी साल 2017 में जींद के ही एक युवक से हुई थी, लेकिन तभी दोनों अलग हो गए थे। महिला गुड़गांव में नौकरी करने लगी और अपने पति के खिलाफ महिला थाना ईस्ट में एफआईआर दर्ज कराई। आरोप है कि महिला थाने के गेट पर ही इंस्पेक्टर दलबीर से उसकी मुलाकात हुई और दोनों कॉल पर बात करने लगे। आरोप है कि इंस्पेक्टर ने महिला की पुरानी नौकरी छुड़वाकर 28 मई से टीएफआर रेस्तरां-क्लब में नौकरी लगवा दी। इसके बाद दोनों अक्सर मोबाइल कॉल पर बात करने लगे। 

इंस्पेक्टर ने रेप किया, शराब पिलाई, वीडियो बनाया

महिला का आरोप है कि 10 जुलाई को इंस्पेक्टर उसे जींद में स्विफ्ट कार में मिला। इंस्पेक्टर ने कहा कि वह भी गुड़गांव जा रहा है और महिला को कार में बैठा लिया। कुछ आगे जाकर कार के सभी शीशों पर काले पर्दे व फिल्म लगाकर सड़क किनारे कार रोक रेप किया गया। 11 जुलाई को इंस्पेक्टर ने कॉल कर अपने मकान में महिला को बुलाया तो वह चली गई। महिला का कहना है कि वहां भी रेप कर विडियो बनाया गया। यह विडियो महिला को वॉट्सऐप से भेजा और इसी के आधार पर आए दिन महिला से रेप करने लगा। उसे अपने साथ शराब पिलाने लगा। परेशान होकर महिला वापस जींद चली गई और आत्महत्या की कोशिश की। लेकिन प्रदीप नामक युवक ने उसे समझाकर बचा लिया। शुक्रवार को उसने महिला थाना जींद पुलिस को शिकायत दी। जींद महिला थाना में इंस्पेक्टर के खिलाफ रेप व आईटी एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज की गई है। 

इंस्पेक्टर लाइन हाजिर किया गया 

इस पूरे मामले में गुड़गांव पुलिस का कोई अधिकारी कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है लेकिन सूत्रों की मानें तो शनिवार को सूचना मिलते ही पुलिस कमिश्नर मोहम्मद अकिल ने इंस्पेक्टर दलबीर को लाइन हाजिर कर दिया। सदर थाना एसएचओ से हटाकर इंस्पेक्टर को पुलिस लाइन भेज दिया गया। उनके स्थान पर सेक्टर-9ए थाना एसएचओ इंस्पेक्टर बसंत को सदर थाना एसएचओ लगाया गया है। ट्रैफिक विंग से इंस्पेक्टर ओमप्रकाश को सेक्टर-9ए थाना एसएचओ लगाा गया है।