KANPUR का कारोबारी लापता, GWALIOR में लावारिस कार मिली

ग्वालियर। कानपुर के कपड़ा कारोबारी अमित केसरवानी अपनी पत्नी लक्ष्मी और 3 बच्चों के साथ 12 जुलाई से लापता हैं। उनकी कार ग्वालियर रेलवे स्टेशन क्षेत्र में मिली है। कानपुर पुलिस 2 दिनों से ग्वालियर में अमित केसरवानी के संपर्क सूत्र तलाश रही है। कानपुर की सीतामऊ थाना पुलिस ग्वालियर आ गई है और यहां की पड़ाव थाना पुलिस के साथ व्यापारी की तलाश में जुट गई है। पुलिस का कहना है कि व्यापारी की कार से मोबाइल और अन्य सामान मिला है। 

37 वर्षीय अमित केसरवानी 12 जुलाई की शाम चार बजे अपनी ईको स्पो‌र्ट्स कार से 32 वर्षीय पत्नी लक्ष्मी, बेटे 12 वर्षीय बेटे यश, नौ वर्षीय बेटी माही, तीन वर्षीय बेटे आदी के साथ इलाहाबाद जाने की बात कहकर निकले थे। जाने के बाद कोई संपर्क न होने पर भाई अजय ने इलाहाबाद में रिश्तेदारों से संपर्क किया तो उनके वहां न पहुंचने की जानकारी हुई। अजय के मुताबिक भाई के पास दो और बहू के पास एक मोबाइल था लेकिन, तीनों स्विच ऑफ थे। केशव नगर निवासी भांजे गोलू ने तीनों मोबाइलों की लोकेशन ट्रेस की तो झांसी निकली। 

इस पर उन्होंने भाई व परिवार के लापता होने की सूचना सीसामऊ थाने में दी। इसके बाद वह अपनी गाड़ी से झांसी के लिए निकले। झांसी जाकर उन्होंने चार टोल प्लाजा पर फुटेज चेक कराए तो सभी से अमित की गाड़ी परिवार सहित क्रास होने की जानकारी मिली। भाई और बहू के मोबाइल की आखिरी लोकेशन झांसी के चित्रा चौराहा वर्धमान होटल के पास मिली थी। 

वहां के होटलों में भी छानबीन की। लेकिन, कहीं भी उनके रुकने की जानकारी नहीं हुई है। अजय के मुताबिक माता पीतांबरा देवी के दर्शन करने की आस के चलते भाई व उसके परिवार को तलाशते हुए दतिया मध्य प्रदेश गए। वहां भी कुछ पता नहीं चला। उन्होंने वापस आकर झांसी एसएसपी से संपर्क किया। भाई के परिवार की फोटो, मोबाइल नंबर समेत अन्य ब्यौरा एसएसपी को देकर रिपोर्ट दर्ज कराई।