Loading...

विधायक आकाश विजयवर्गीय को जेल भेजा | MLA AKASH VIJAYVARGIYA BAIL REJECTED, ORDER TO JAIL

भोपाल। इंदौर में सरकारी कर्मचारी को क्रिकेट बैट से पीटने के आरोप में भाजपा विधायक आकाश विजयवर्गीय को जेल भेज दिया गया है। कोर्ट ने उनकी जमानत याचिका नामंजूर कर दी है। आज उन्हे जब कोर्ट में पेश किया गया तो उनके समर्थकों ने कोर्ट के बाहर काफी हंगामा किया। 

बता दें कि गिरफ्तारी के फौरन बाद पुलिस आकाश को लेकर मेडिकल परीक्षण के लिए अस्पताल लेकर रवाना हुई। समर्थकों ने उनकी गिरफ़्तारी का भारी विरोध किया। वो गाड़ी के सामने खड़े हो गए और पुलिस को रोकने की कोशिश की। इस दौरान समर्थकों और पुलिस में जमकर हाथापाई हुई। पुलिस ने आकाश को जिला कोर्ट में पेश किया। कोर्ट के बाहर भी समर्थकों की भारी भीड़ जमा हो गयी। उन्हें काबू करने के लिए भारी पुलिस बल तैनात किया गया। इस बीच, इंदौर की स्‍थानीय अदालत ने आकाश विजयवर्गीय की जमानत याचिका खारिज कर दी है।

आकाश विजयवर्गीय के खिलाफ शहर के एमजी रोड थाने में FIR दर्ज कराई गई थी। आकाश के खिलाफ धारा 353, 294, 506, 147 और 148  के तहत चार्ज लगाए गए हैं। ये धाराएं शासकीय कार्य में बाधा डालने, मारपीट और बलवा करने से जुड़ी हैं।

Update: BJP MLA Akash Vijayvargiya has been sent to judicial custody till 7th July. He was arrested for thrashing a Municipal Corporation officer in Indore, earlier today. Akash is the son of senior BJP leader Kailash Vijayvargiya.