Loading...

GWALIOR NEWS : पिता से बदला लेने बेटे की हत्या कर दी, लाश राजगढ़ में मिली

ग्वालियर। पुरानी रंजिश पर दो युवक एक नाबालिग लड़के को नौकरी लगवाने और अच्छा पैसा कमाने का झांसा देकर ले गए और उसकी हत्या कर दी। नाबालिग लड़के के लापता होने का पता चलते ही परिजनों ने उसका अपहरण का मामला हजीरा थाने में दर्ज कराया। पुलिस नाबालिग लड़के की तलाश कर रही थी कि तभी पता चला कि किशोर का शव राजगढ़ में मिला है। शव मिलने का पता चलते ही पुलिस राजगढ़ पहुंची और शव की पहचान होते ही निगरानी में लेकर ग्वालियर रवाना हो गई है। वहीं पुलिस को पता चला है कि किशोर की हत्या पिता से रंजिश का बदला लेने के लिए की गई है। 

एसपी अमन सिंह राठौर ने बताया कि गदाईपुरा निवासी विनोद प्रजापति (Vinod Prajapati) का सत्रह वर्षीय बेटा सचिन प्रजापति (Sachin Prajapati) एक माह पहले लापता हो गया था। जब वह वापस नहीं आया तो उसके गायब होने की सूचना हजीरा थाना पुलिस को दी। सूचना पर पुलिस ने अपहरण का मामला दर्ज कर उसकी तलाश शुरू की। पुलिस नाबालिग लड़के की तलाश कर रही थी कि तभी पता चला कि एक नाबालिग लड़के का शव राजगढ़ जिले के करनवास थाना क्षेत्र के माधौपुरा में मिला है। इसका पता चलते ही पुलिस राजगढ़ पहुंची और उसकी शिनाख्त की। 

पुलिस ने नाबालिग लड़के का शव मिलने के बाद पड़ताल की तो पता चला कि जिस दिन नाबालिग लड़के लापता हुआ था, उस दिन नाबालिग लड़के के माता-पिता दतिया शादी में गए थे। इसी बीच पुलिस को पता चला कि नाबालिग लड़के को पास ही रहने वाला प्रेम जाटव और जमील खान (Prem Jatav and Jamil Khan) ले गए हैं। इसका पता चलते ही पुलिस ने जमील को राउण्डअप किया और पूछताछ की तो उसने वारदात करना स्वीकार करते हुए उसकी हत्या प्रेम के साथ करना स्वीकार कर लिया। पुलिस ने उसे हिरासत में लेकर राजगढ़ पुलिस को सौंपा है। जहां पर पुलिस ने उसके खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। 

रंजिश के चलते दिया वारदात को अंजाम 

एक साल पहले विनोद प्रजापति का विवाद प्रेम से हुआ था। विवाद बढ़ा तो विनोद ने उसकी शिकायत पुलिस से की। पुलिस ने उसकी शिकायत पर मामला दर्ज कर प्रेम को जेल भेज दिया था। जिसका बदला लेने के लिए आरोपियों ने उसकी हत्या कर शव को वहां पर पटका था।