Loading...

CBSE : स्कूलों में इस सेशन में स्टूडेंट्स के लिए 50 से अधिक नये कोर्स होंगे | EDUCATION NEWS

भोपाल। बच्चों को सिर्फ किताबी ज्ञान न मिले, बल्कि उनका स्किल डेवलपमेंट भी हो सके इस मकसद से सीबीएसई कुछ नए सब्जेक्ट ला रहा है। जून के अंतिम सप्ताह से शुरू होने जा रहे सीबीएसई स्कूलों में स्टूडेंट्स के लिए कई नई चीजें होंगी। सीबीएसई सेकंडरी लेवल पर 17 और सीनियर सेकंडरी लेवल पर 42 स्किल सब्जेक्ट्स हैं जिन्हें स्टूडेंट्स बतौर ऑप्शन चुन सकते हैं।   

स्किल बेस्ड बनाने के लिए सीबीएसई ने नए विषयों को करिकुलम में शामिल किया है। नए विषयों के रूप में सीबीएसई, स्टूडेंट्स आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (एआई), योगा और अरली चाइल्डहुड केयर एंड एजुकेशन व अन्य विषय शामिल हैं। पांच कंपल्सरी सब्जेक्ट के अलावा छठे ऑप्शनल सब्जेक्ट के रूप में स्टूडेंट इसे चुन सकेंगे। सीबीएसई का मानना है कि एआई, देश की इकानॉमिक ग्रोथ और सोशल डेवलपमेंट का महत्वपूर्ण पहलू है इसलिए इसे कॅरिकुलम में शामिल किया जा रहा है। इसका उद्देश्य छात्र-छात्राओं की प्रतिभा को निखारना है, जिसका फायदा उन्हें भविष्य में अपने कॅरियर और बिजनेस में भी मिल सके। 

कक्षा 9वीं और 10वीं के छात्र आर्टिफीशियल इंटेलीजेंस के साथ रिटेल, आईटी, सिक्योरिटी,ऑटोमोटिव, ब्यूटी एंड वेलनेस, एग्रीकल्चर, फूड प्रोडक्शन, बैंकिंग एंड इंश्योरेंस, मार्केटिंग एंड सेल्स, हेल्थकेयर, अपैरल और मीडिया जैसे कोर्स हैं।
सीनियर सेकंडरी स्टूडेंट्स के लिए योग और अर्ली चाइल्डहुड केयर एंड एजुकेशन के अलावा एप्लाइड फिज़िक्स, केमिस्ट्री, मैथेमेटिक्स, मेडिकल डायग्नोस्टिक्स, टेक्सटाइल डिज़ाइन, फूड न्यूट्रीशन एंड डाइटेटिक्स, फैशन स्टडीज़ जैसे सब्जेक्ट शामिल हैं।
इन सभी सब्जेक्ट के सक्सेसफुल इम्प्लिमेंटेशन के लिए बोर्ड टीचर्स की कैपेसिटी बिल्डिंग के अलावा अन्य मदद भी करेगा।