Loading...

ADHYAPAK SAMACHAR: अब मंत्री/विधायकों का घेराव करेंगे

मंडला। जिले में अध्यापको कों 3 माह से वेतन नहीं मिला है। अब विभाग की कार्यप्रणाली से त्रस्त हो चुके अध्यापकों का असंतोष बढता जा रहा है, जिले के सभी अध्यापक आक्रोशित हैं। आंदोलन के अगले चरण में अध्यापक जिले भर में आंदोलन को गति देंगे और चुने गए जनप्रतिनिधियों, विधायकों मन्त्रियों का घेराव करके अपनी पीड़ा से अवगत करायेंगे। 

जिला संयोजक सन्जीव वर्मा ने बताया वेतन की समस्या प्रदेश के सभी ट्रायबल जिलों में है। जिम्मेदार अधिकारी कभी ट्रेजरी कोड के नाम से तो कभी आवंटन के नाम से कभी किसी अन्य कारण से वेतन भुगतान की प्रक्रिया को पिछले तीन माह से लटका रहे हैं। विभाग के जिम्मेदार अधिकारियो का कहना है कि जब तक ट्रेजरी कोड जारी नहीं होगा तब तक किसी भी अध्यापक का वेतन जारी नहीं किया जायेगा, ज्ञात हो ट्रेजरी कोड जारी करने की जिम्मेदारी भोपाल स्तर की है लेकिन अभी तक आधे से अधिक अध्यापके के ट्रेजरी कोड जारी नहीं किये गये हैं, इसके अतिरिक्त आयुक्त जनजातीय कार्यविभाग से उच्चतर माध्यमिक शिक्षक के आदेश आज दिनांक तक जारी नहीं किये जा सके हैं। 

वहीं उपायुक्त जनजातीय कार्यविभाग जबलपुर से माध्यमिक शिक्षको के लगभग 500 से अधिक आदेश आज दिनांक तक जारी नहीं किये गये हैं जबकि आजाद अध्यापक शिक्षक संघ ने अनेको बार ज्ञापन देकर जिम्मेदार अधिकारियो को समस्या के निराकरण के लिए निवेदन किया है. विभाग की मनमर्जी का आलम यह है कि अध्यापक संवर्ग के कर्मचारी वेतन के आभाव में अधिक ब्याज में कर्ज के जाल में बुरी तरह फ़न्स चुके हैं और देनदारों के बार बार के तकाजो से तंग आ चुके हैं. जिला अध्यक्ष संतोष सोनी ने प्रशासन को चेताया है कि यदि अविलंब समस्याओ का निराकरण नहीं किया गया तो आंदोलन के लिए स्वयं शासन प्रशासन जिम्मेदार होंगे।

यह रहे उपस्थित
संतोष सोनी  संजीव वर्मा  अमित श्रीवास्तव जयपाल झारिया प्रमोद दुबे मुकेश पाठक सरजीत ठाकुर संजय पटेल आसाराम साहू राजेंद्र व निधि रमेश गैंदलाल अनिकेत रामकुमार जनक राम परते संतोष पटेल प्रेम सिंह देव सिंह आत्माराम सुरेश पंचू लाल ज्योति पटेल गीता परते रजनी तेकाम गीतांजलि धूमकेती गीता  परते भगवानदास यादव सुनीता तिवारी आशा डेहरिया दीपा नैन बती लक्ष्मी वेद प्रकाश अनिल यादव रेखा कछवाहा संजय ठाकुर राजेश सिंह विशन तेकाम मनोज दुबे  भुनेश्वर प्रसाद