मप्र: सबसे पहले मंत्रालय में होगी प्रशासनिक सर्जरी | MP BUREAUCRACY NEWS

भोपाल। लोकसभा चुनाव खत्म हो गए। शिवराज सिंह ने बयान भी दे दिया कि भाजपा सरकार नहीं गिराएगी। अब मुख्यमंत्री कमलनाथ अपने मंत्रालय में नोकरशाहों की पदस्थापनाएं अपनी योजना के अनुसार करेंगे। यह जल्द ही होगा। शायद एक सप्ताह में। कुछ आईएएस अधिकारियों को लूप लाइन में भेजा जाएगा तो कुछ लूप लाइन से लाइम लाइट में आएंगे। 

कृषि विभाग में बदलाव हो सकता है। प्रमुख सचिव सहकारिता अजीत केसरी को भी पद से हटाया जा सकता है। नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण में पदस्थ पंकज अग्रवाल को पॉवरफुल पोजीशन मिल सकती है। मुख्यमंत्री सचिवालय में भी कुछ नाम बदले जाएंगे। प्रमुख सचिव खाद्य नागरिक आपूर्ति नीलम शमी राव को बदले जाने की चर्चा है। कृषि विभाग के प्रमुख सचिव डॉ. राजेश कुमार राजौरा को उद्योग विभाग का अतिरिक्त प्रभाग दिया गया है। कहा जा रहा है कि अब उन्हे कृषि विभाग से मुक्त कर दिया जाएगा। वो पूरी तरह से उद्योग विभाग का काम देखेंगे। 

कृषि विभाग कर्जमाफी जैसी बड़ी योजना का क्रियान्वयन कर रहा है। इसके लिए पूर्णकालिक अधिकारी की जरूरत है। इसके मद्देनजर प्रमुख सचिव अजीत केसरी को यह जिम्मेदारी सौंपी जा सकती है। ऊर्जा विभाग में बदलाव के संकेत चुनाव के दौरान ही दिए जा चुके हैं। सामान्य प्रशासन विभाग का प्रभार अभी अपर मुख्य सचिव पीसी मीना के पास है। यहां स्थाई व्यवस्था की जा सकती है।