साध्वी प्रज्ञा ने डांटा तो जीतू पटवारी की वासना, लालसा में बदल गई | MP NEWS

Advertisement

साध्वी प्रज्ञा ने डांटा तो जीतू पटवारी की वासना, लालसा में बदल गई | MP NEWS

भोपाल। कमलनाथ सरकार के मंत्री जीतू पटवारी अपने शब्दों को लेकर अक्सर विवादों में घिर आते हैं। एक बार फिर ऐसा ही हुआ है। हालात यह बने कि साध्वी प्रज्ञा सिंह ने जब फटकार लगाई तो मंत्री महोदय ने तपाक से अपने शब्द बदल दिए। उनकी वासना अब लालसा हो गई है। 

मामला साध्वी उमा भारती और साध्वी प्रज्ञा सिंह की मुलाकात का है। सभी जानते हैं कि दोनों के बीच कतई नहीं बनती। उमा भारती ने 2 बार साध्वी प्रज्ञा सिंह पर तंज कसे तो आरएसएस एक्टिव हुआ और दोनों का मधुर मिलन करवा दिया। कांग्रेस नेता एवं मंत्री जीतू पटवारी ने इसी मिलन पर तंज कसते हुए ट्वीट किया लेकिन अपने ट्वीट में मंत्री महोदय अश्लील शब्द का प्रयोग कर गए। उन्होंने मिलन का फोटो पोस्ट करते हुए लिखा 'राजनीतिक वासना के लिए मिलाप' साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने जैसे ही आपत्ति उठाई मंत्री महोदय के शब्द बदल गए। अब लिखा है 'राजनीतिक लालसा के लिए मिलाप।'

साध्वी और उमा भारती की मुलाक़ात पर जीतू पटवारी ने तंज कसा कि भले ही दिल न मिले हैं..लेकिन गले जरूर मिल रहे हैं। आगे लिखा कि राजनीतिक वासना के लिए मेल मिलाप। वासना शब्द पर प्रज्ञा ठाकुर की ओर से आपत्ति आई तो पटवारी ने तत्काल वासना शब्द हटाकर उसकी जगह लालसा लिख दिया। जीतू पटवारी ने दोबारा ट्वीट किया जिसमें लिखा दो राजनीतिक साध्वी का विलाप। विलाप तो है, लेकिन राजनीतिक लालसा के लिए विलाप है।