LOKSABHA CHUNAV HINDI NEWS यहां सर्च करें





जान लेने से मसले का समाधान नहीं हो सकता: नवजोत सिंह सिद्धू | NATIONAL NEWS

15 February 2019

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकी हमले पर कांग्रेस के सीनियर नेता नवजोत सिंह सिद्धू का बयान आया है। पिछले साल पाकिस्तान जाकर पाक आर्मी चीफ कमर जावेद बाजवा के गले लगने वाले नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा है कि आतंकियों का कोई देश या धर्म नहीं होता है। उन्होंने कहा कि कहा कि गालियां देने से इसका समाधान नहीं होगा, आतंकवाद का हल ढूढंना ही होगा।

सिद्धू ने कहा, "ऐसे लोगों का को धर्म नहीं होता, देश नहीं होता, जाति नहीं होती है। लोहा लोहे को काटता है, आग आग को काटती है।" सिद्धू ने कहा कि जहां जहां जंगें चलती रहती है वहां डायलॉग भी साथ-साथ चलता है। सिद्धू ने कहा कि आतंकवाद का स्थायी समाधान खोजा जाना चाहिए। पाकिस्तान के पीएम इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में शिरकत करने के लिए पाकिस्तान पहुंचने वाले सिद्धू ने कहा कि इस आतंकी हमले के दोषियों को सजा तो मिलनी चाहिए लेकिन साथ ही साथ बातचीत, अतंरराष्ट्रीय समुदाय के दबाव का इस्तेमाल कर इसका समाधान निकाला जाना चाहिए। सिद्धू ने कहा कि इस मामले में गालियां देना ठीक नहीं है। उन्होंने कहा, "देखो, गालियां देने से ये ठीक नहीं होगा... कब तक हमारे जवान शहीद होते रहेंगे। कब तक ये खून खराबा चलता रहेगा।

सिद्धू ने कहा कि हर देश में 'गुड' 'बैड' और 'अगली' लोग होते हैं लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि आप पूरी कौम को चपेटे में ले लें। उन्होंने कहा कि जो कुछ हुआ है उसकी पूरे इंटरनेशनल कम्युनिटी में निंदा होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि इस मामले में गहराई तक जाकर इसका समाधान निकाला जाना चाहिए। सिद्धू ने कहा कि जान लेना कभी भी मसले का समाधान नहीं हो सकता है। उन्होंने हमले को कायराना हरकत बताया और इसकी कड़ी निंदा की।

बता दें कि साल 2018 में नवजोत सिंह सिद्धू 2 बार पाकिस्तान गए थे. इमरान खान के शपथ ग्रहण के अलावा वो तब भी पाकिस्तान गए थे जब करतारपुर में पाकिस्तान ने सिख कॉरिडोर का उद्घाटन किया गया था।



-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

;
Loading...

Suggested News

Popular News This Week

 
-->