Loading...

जानिए इस फोटो में ऐसा क्या है जो इसे आनन-फानन डीलिट करवाया गया | MP NEWS

भोपाल। यह फोटो साध्वी भेष धारण करने वाली एक महिला नेता पूजा शकुन पांडेय ने 19 मार्च 2017 को अपनी फेसबुक पर पोस्ट किए थे, लेकिन अब 30 जनवरी 2019 को इन्हे आनन-फानन डीलिट करवाया गया लेकिन तब तक सारे फोटो कई लोगों ने डाउनलोड कर लिए थे और ये अब भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। दरअसल पूजा शकुन पांडेय हिंदू महासभा की वही महिला नेता है जिसने महात्मा गांधी की पुण्यतिथी 30 जनवरी को उनकी तस्वीर को नकली पिस्तौल दिखाकर उनकी हत्या को उचित बताया था। शकुन द्वारा शेयर कि किए फोटो में वे पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, उमा भारती और मप्र सरकार में पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा के साथ नजर आ रही हैं। 

कार्यक्रम का वीडियो वायरल किया था
दरअसल, बुधवार को महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर अलीगढ़, उत्तरप्रदेश के नौरंगाबाद इलाके के एक घर में हिन्दू महासभा के कार्यकर्ताओं ने बापू का अपमान किया था। इस घटना के बाद इसका एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। इसमें शकुन पांडेय कुछ कार्यकर्ताओं के साथ बापू की तस्वीर पर नकली बंदूक ताने नजर आ रही थीं। वीडियो के आधार पर पुलिस ने शकुन पांडेय और उनके पति हिंदू महासभा के राष्ट्रीय प्रवक्ता अशोक पांडेय समेत 13 लोगों पर केस दर्ज किया था। इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार भी किया जा चुका है। 

गांधी जीवित होते तो एक और विभाजन करते

महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर पूजा शकुन पांडेय की अगुआई में हिंदू महासभा के कार्यकर्ताओं ने शौर्य दिवस मनाया था। इसके बाद कार्यकर्ताओं ने कार्यालय परिसर में नाथूराम गोडसे के चित्र पर माल्यार्पण किया। इस दौरान शकुन पांडेय ने नाथूराम गोडसे की तुलना भगवान कृष्ण से की। उन्होंने कहा कि अगर गांधी जीवित रहते तो देश का एक और विभाजन होता।