Loading...

MP KISAN LOAN GHOTALA: सबसे ज्यादा आपत्तियां नरोत्तम मिश्रा के दतिया में | MP NEWS

भोपाल। सीएम कमलनाथ (CM KAMAL NATH) ने हाल ही में कहा कि मध्यप्रदेश का किसान लोन घोटाला (FARMER LOAN SCAM) करीब 2000 करोड़ का हो सकता है। इससे पहले उन्होंने कहा था कि भाजपा के नेता और प्रशासनिक अधिकारियों ने मिलकर यह घोटाला किया है। अब डाटा बैंक से जानकारी आ रही है कि मध्यप्रदेश में दतिया (DATIA) नंबर पर है जहां 25 प्रतिशत किसानों ने अपने लोन पर आपत्तियां दर्ज कराईं हैं। आरपीएस जादौन, कलेक्टर, दतिया का कहना है कि गुलाबी फॉर्म का परीक्षण करने के बाद यदि घोटाला सामने आया तो कार्रवाई की जाएगी। बता दें कि दतिया शिवराज सिंह सरकार के सबसे पॉवरफुल मंत्री रहे नरोत्तम मिश्रा (Ex MINISER Dr. NAROTTAM MISHRA) का क्षेत्र है। 

कर्जमाफी की घोषणा के बाद प्रदेश सरकार के हरे, सफेद और गुलाबी फार्म ने किसानों की मुसीबत बढ़ा दी है। कर्ज से जुड़ी किसी भी तरह की आपत्ति (नाम-बैंक खाते में संशोधन, बिना कर्ज लिए कर्जदार बनाने और सूची में कम कर्ज दर्ज होने पर) गुलाबी फार्म में दर्ज है। ग्वालियर-चंबल अंचल के पांच जिलों में सबसे ज्यादा 12099 गुलाबी फार्म दतिया जिले में भरे गए हैं और सबसे कम 3501 फार्म श्योपुर में। 

हालांकि प्रदेश में सबसे ज्यादा 21000 गुलाबी फार्म खरगोन में भरे गए हैं, लेकिन दतिया के मुकाबले खरगोन में किसानों की कुल संख्या लगभग चार गुनी ज्यादा है। इस लिहाज से किसानों के अनुपात में प्रदेश में सबसे ज्यादा गुलाबी फार्म दतिया में भरे गए। दतिया में करीब 25 प्रतिशत और खरगोन में करीब 12 प्रतिशत किसानों ने ही गुलाबी फार्म भरा है। इस लिहाज से देखा जाए तो सबसे ज्यादा गड़बड़ी की आशंका दतिया में ही है। प्रदेश में भरे गए गुलाबी फार्मों की कुल संख्या 340262 है।