Loading...

पापा ने पढ़ाई करने भेजा था, बेटी प्यार कर बैठी, फिर ऐसे हुआ लव स्टोरी का अंत | INDORE MP NEWS

इंदौर। पढ़ाई करने गांव से शहर आई पायल रावत का शव अर्जुन बघेल नाम के युवक के घर में फांसी पर झूलता हुआ मिला है। बताया जा रहा है कि पायल, अर्जुन के साथ लिव इन रिलेशन में रह रही थी। वो एमए फर्स्ट ईयर की छात्रा थी। पुलिस का कहना है कि पायल ने अर्जुन से नाराज होकर आत्महत्या कर ली। इससे पहले उसने वीडियो कॉल भी किया था। पायल के पिता को अब तक पता नहीं था कि वो लिव इन रिलेशन में है। 

छत्रीपुरा टीआई संतोष सिंह यादव के मुताबिक, 22 वर्षीय पायल रावत 4 साल से इंदौर में थी। वह तीन महीने से अर्जुन बघेल (25) के साथ लिव-इन रिलेशन में समाजवाद नगर में रहती थी। अर्जुन मूलत: कुक्षी के तलावड़ी और पायल मोगरा गांव की रहने वाली थी। युवक पोस्ट ऑफिस के एक अधिकारी की गाड़ी चलाता है। टीआई ने बताया कि छात्रा 31 दिसंबर को गांव गई थी। शनिवार दोपहर करीब 4 बजे गंगवाल बस स्टैंड पहुंची और अर्जुन को कॉल कर कहा कि मुझे लेने आ जाओ। अर्जुन ने कहा- मैं ड्यूटी पर हूं। नहीं आ पाऊंगा। छात्रा ने कहा- तुम्हारे पास तो मेरे लिए समय ही नहीं है। मैं फांसी लगाकर खुदकुशी कर लूंगी। अर्जुन ने इस बात को गंभीरता से नहीं लिया और समझा कमरे पर जाने के लिए कह दिया था।

इंदौर आकर पिता को भी किया था कॉल
छात्रा कमरे पर पहुंची और पिता को कॉल कर बताया कि मैं इंदौर पहुंच गई हूं। वहीं, सूत्रों के मुताबिक- उसने अर्जुन को वीडियो कॉल कर नहीं आने पर गुस्सा जताया था। अर्जुन ड्यूटी से करीब 11 बजे कमरे पर पहुंचा। दरवाजा खटखटाया, जो नहीं खुला। इस पर उसने पड़ोसियों की मदद से दरवाजा तोड़ा तो अंदर छात्रा फंदे पर लटकी मिली। अर्जुन से सूचना मिलने के बाद पुलिस वहां पहुंची और छात्रा को फंदे से उतारा। पुलिस ने उसके परिजनों को सूचना दी और कमरा सील कर दिया है। युवती के मोबाइल की जांच की जाएगी।