Advertisement

ये मंत्री ऐसे ही हैं, रात 2:30 बजे भी आ सकते हैं | REVIEW @ JITU PATWARI


भोपाल। खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्री जीतू पटवारी ने आज सुबह टी.टी. नगर स्टेडियम का औचक निरीक्षण किया। वो बिना किसी पूर्व सूचना के ट्रेकसूट में स्टेडियम पहुँच गए। अब विभागीय अधिकारी दिन भर से परेशान हैं। ऐसे ही यदि बिना सूचना के प्रदेश भर में पहुंचते रहे तो ना जाने कितनी गड़बड़ियों का खुलासा हो जाएगा। दरअसल, अधिकारियों को अब समझ लेना चाहिए कि उनका मंत्री ऐसा ही है। वो सुबह 5 बजे स्टेडियम में और रात ढाई बजे भी हॉस्टल में पहुंच सकता हैं। जीतू पटवारी की पहचान ही यही है। उनके ऊपर कभी कोई पद हावी नहीं होता। ऊपर से विभाग भी ऐसा मिल गया। अब खेल विभाग में कोई खेल नहीं चल पाएगा। या तो अधिकारी सुधर जाएंगे या फिर बदल जाएंगे। 

आज मंत्री श्री पटवारी ने बालक छात्रावास की साफ-सफाई की व्यवस्था पर नाराजगी व्यक्त करते हुये सफाई सुपरवाईजर को 15 दिन के अंदर व्यवस्थाओं को दुरस्त करने के निर्देश दिये। सफाई व्यवस्था के लिये उन्होंने पुन: निविदा आमंत्रित करने भी निर्देश दिये। खेल मंत्री ने छात्रावास में बालिका खिलाड़ियों से भी मुलाकात कर उनके डाईट प्लान, रहने की सुविधाओं और प्रशिक्षण के संबंध में जानकारी प्राप्त की।

मंत्री श्री पटवारी ने छात्रावास में वार्डन के पद स्वीकृति के लिये प्रस्ताव बनाकर प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। छात्रावास में रह रहे लगभग 400 बच्चों के कपड़े, छात्रावास में चादर, तकिये की धुलाई के लिये इस्तमाल में लाई जा रही मशीनों को अर्पयाप्त बताते हुए खेल मंत्री ने वाशिंग मशीन उपलब्ध कराने तथा कर्मचारियों की संख्या बढा़ने के निर्देश दिये। इस अवसर पर संचालक खेल एवं युवा कल्याण डॉ. एस.एल. थाउसेन मौजूद थे।