Loading...

शिवराज सरकार ने हमें भिखारी बना दिया था, कांग्रेस वचन निभाएगी: गुरूजी संघर्ष समिति | MP NEWS

मैं जगदीश मंडलोई (सह-संयोजक गुरूजी संघर्ष समिति म.प्र.) भोपाल समाचार डाॅट काॅम के माध्यम से हमारी मांग गुरूजी वरिष्ठता नई सरकार से ध्यान आकर्षित करने के लिये खुला खत लिख रहा हुं। हम दिग्विजय सिंह के कार्यकाल मे नियुक्त हुऐ थे और उसी की सरकार से हमारी नियुक्ति दिनांक से वरिष्ठता की उम्मीद जागी है। आशा ही नही पूर्ण विश्वास है की हमारी मांग कैबिनेट गठन के बाद हमे नियुक्ति दिनांक से गुरूजी वरिष्ठता मिलने का आसार है। 

शिवराज सरकार के समय हमारी हालात भिखारी की समान हो चुकी थी। हम हम हमारी मांग को लेकर दर-दर की ठोकरे खा रहे थे। हमारी मांग 21 जनवरी को शिवराज सिंह चौहान ने शिक्षा विभाग की घोषणा के साथ गुरूजी वरिष्ठता देने का ऐलान भी किया था लेकिन शिक्षा विभाग प्रकिया तो प्रारंभ हो चुकी थी लेकिन गुरूजियों की नियुक्ति दिनांक से वरिष्ठता की मांग को नौकरशाही ने अनदेखा कर दिया और हमे वल्लभ भवन के अधिकारीयों ने भिखारी के तरह दिप्ती गौड़ मेडम से मिलो तो कभी वर्णावत से मिलो वर्णावत जी कहते। 

जब हमारे प्रतिनिधि वित्तमंत्री जयंत मलैया से मिले तो उन्होंने कहा कि जिसने घोषणा की उससे मिलें। मै मेरे कार्यालय मे गुरूजी फाइल आते ही 1 घंटे मे फाइल पर हस्ताक्षर करके वित्त विभाग मे कार्यवाही के लिये भेज दूगां। आचार संहिता के अंतिम समय तक हम वल्लभ भवन मे भूखे प्यासे चक्कर लगाते रहे लेकिन हमारी मांग को कोई सुनने वाले नही मिले। 

हमारी मांग को नई सरकार ने वचन पत्र मे क्रमांक 16.28 मे अंकित है गुरूजियों की वर्षो से लंबित मांग को 90 दिन के अंदर पूर्ण किया जायेगा। नई सरकार नायक फिल्म की तर्ज पर कार्य कर रही तो हमारी मांग भी गुरूजी वरिष्ठता बहुत जल्द पूर्ण होने की संभावना है। 
जगदीश मंडलोई सह-संयोजक गुरूजी संघर्ष समिति म.प्र.