Loading...

पुरानी पेंशन बहाल करने की कोई योजना नहीं: केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री | EMPLOYEE NEWS

नई दिल्ली। केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री शिव प्रताप शुक्ल नें शिमला सांसद वीरेन्द्र कश्यप को लोक सभा में बताया की बढ़ती पेंशन देनदारियों तथा वित्तीय कठिनाइयों की वजह से केन्द्र सरकार में एक जनवरी 2014 के बाद भर्ती किये गए केन्द्रीय सरकार के कर्मचरियों के लिए पुरानी पेंशन योजना बहाल करने की कोई योजना नहीं है।

उन्होनें लोक सभा में एक प्रश्न के उतर में बताया की केन्द्र सरकार की पेंशन बंद करने की भी कोई योजना नहीं है। उन्होनें बताया की वर्ष 2017-18 के दौरान केन्द्र सरकार नें पेन्शन देनदारियों पर कुल 156641.29 करोड़ रूपए खर्च किये। केंद्रीय वित्त राज्य मन्त्री शिव प्रताप  शुक्ल नें शिमला सांसद वीरेन्द्र कश्यप को लोक सभा में बताया की केन्द्र सरकार ने नई पेन्शन  योजना में अपनी हिस्सेदारी दस प्रतिशत से बढाकर पंद्रह प्रतिशत कर दी है जिससे अगले वित्त वर्ष में केंद्रीय कोष पर 2840 करोड़ रुपए का अतिरिक्त  बोझ पड़ेगा।

उन्होंने बताया की 30 नवम्बर 2018 तक विभिन्न बैंकों के माध्यम से 4779 लाभार्थी फैमिली  पेन्शन ग्रहण कर रहे हैं। उन्होंने बताया की विभिन्न राज्य सरकारों तथा अन्य संगठनों के माध्यम से पुरानी पेन्शन व्यवस्था बहाल करने के अनेक आवेदन प्राप्त हुए हैं।