Loading...

कलेक्टर धनराजू एस: बेटी का इलाज कराने सरकारी अस्पताल की लाइन में लगे | BHIND MP NEWS

भोपाल। भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी धनराजू एस अक्सर अपनी सादगी के लिए सुर्खियों में रहते हैं। सिवनी कलेक्टर रहते हुए जब बेटी को स्कूल ले जाने के लिए आॅटो नहीं आया तो सरकारी कार से उसे स्कूल भेजने के बजाए पैदल ही निकल गए थे। अब भिंड कलेक्टर हैं तो यहां बेटी का इलाज कराने के लिए ना केवल सरकारी अस्पताल पहुंचे बल्कि लाइन में लगकर पर्चा भी बनवाया। 

भिंड के जिला अस्पताल में शनिवार को अपनी बेटी लुंबनी का इलाज कराने पहुंचे कलेक्टर धनराजू एस का अंदाज आम नागरिक जैसा सरल और सहज रहा। शनिवार को वे पर्चा बनवाने के लिए न सिर्फ लाइन में लगे, बल्कि उन्होंने डॉक्टर्स से चेकअप कराने के बाद दवाएं भी अस्पताल से ही लीं। बेटी को दवाएं दिलाने के बाद भिंड कलेक्टर ने जिला अस्पताल के सिविल सर्जन से कुछ देर तक चर्चा की फिर वे बोलेरो में बेटी के साथ बैठकर चले गए।

धनराजू एस की भिंड में चुनाव के दौरान पोस्टिंग हुई थी। नए कलेक्टर धनराजू एस ने आते ही धमाकेदार कार्रवाई कर डाली थी। उन्होंने बीमारी का बहाना बनाकर चुनाव ड्यूटी से बचने की कोशिश करने वाले उद्यान अधिकारी एवं एक अध्यापक को वीआरएस दे दिया था। कलेक्टर ने इसके आदेश भी जारी कर दिए थे। अब दोनों अधिकारियों को किसी भी चुनाव ड्यूटी में नहीं जाना पड़ेगा। 
संबंधित समाचार: