LOKSABHA CHUNAV HINDI NEWS यहां सर्च करें




FUTURE MAKER का CMD एक्स-वे मामले में फंसा, जमानत भी खारिज

27 November 2018

हिसार। FUTURE MAKER LIFE CARE PRIVATE LIMITED के सीएमडी राधेश्याम सुथार (RADHE SHYAM SUTHAR) करोड़ों रुपए ठगी की आरोपी कंपनी एक्स-वे कंपनी के मामले में भी फंस गए हैं। पुलिस पूछताछ में कंपनी के आरोपी पदाधिकारियों ने अपने डिस्कलोजर में यह खुलासा किया था कि कंपनी शुरू करने की सलाह राधेश्याम सुथार ने ही दी थी। इसके चलते पुलिस ने मामले में राधेश्याम समेत 2 लोगों को आरोपी बनाया है। इनकी मामले में भूमिका जानने के लिए दोनों को तफ्तीश में शामिल किया जाना है। 

आदमपुर थाना प्रभारी सुनील ने बताया कि एक्स-वे कंपनी के खिलाफ धोखाधड़ी व चिट फंड के नाम पर करोड़ों रुपए ठगने का केस दर्ज हुआ था। इस मामले में कंपनी के पदाधिकारियों को गिरफ्तार किया था, जिन्होंने उक्त दोनों के सलाह पर कंपनी खोलकर लोगों का पैसा निवेश करवाया था। इस मामले में राधेश्याम समेत दोनों आरोपियों को तफ्तीश में शामिल करने के लिए प्रोडक्शन वारंट पर हासिल किया जाएगा। 

MD BANSILAL अभी भी फरार

साढ़े तीन माह से पुलिस फ्यूचर मेकर कंपनी के वांछित एमडी बंसीलाल को गिरफ्तार नहीं कर पाई है। इसकी गिरफ्तारी के लिए तीन बार उसके टिब्बी गांव स्थित घर पर दबिश दे चुकी है मगर वहां नहीं मिला। उसका परिवार भी बंसीलाल की कोई जानकारी होने से इनकार कर रहा है। एेसे में पुलिस आरोपी के घर तीन बार नोटिस भिजवा चुकी है। 

सतबीर जमानत के बाद भूमिगत

इसके अलावा हिसार सिटी थाना में 4 हजार करोड़ की ठगी का आरोप लगा केस दर्ज करवाने वाला किरढान गांव निवासी सतबीर भी मामले में फंस गया था। उसे जेल भेज दिया था, जोकि जमानत पर बाहर आकर भूमिगत हो गया है। उक्त मुकदमे में उसे तफ्तीश में शामिल करना था लेकिन वह अब पुलिस के हाथ नहीं लगा है। उसके घर भी नोटिस दिया गया है। 

राधेश्याम और सुंदर तेलंगाना की जेल में

सिरसा एसआईटी इंचार्ज दलेराम ने बताया कि सीएमडी राधेश्याम की जमानत याचिका खारिज हो गई है। सुंदर की याचिका को विड्रा कर लिया था। दोनों ही तेलंगाना की जेल में बंद है। गौरतलब है कि फ्यूचर मेकर कंपनी मामले में हजारों करोड़ की ठगी के आरोपी सीएमडी राधेश्याम की सीजेएम निधि बंसल की कोर्ट ने दायर जमानत याचिका को खारिज कर दिया है। वहीं, आराेपी नेशनल डिस्ट्रीब्यूटर सुंदर की जमानत के लिए उसके वकील ने याचिका लगाई थी मगर बहस से पहले ही विड्रा कर ली। फिलहाल दोनों आरोपी तेलंगाना की चेल्लीपल्ली जेल में बंद है। 

यू ट्यूब पर प्रमोटर अपलोड कर रहे भ्रामक वीडियो 

पिछले साढ़े तीन माह से फ्यूचर मेकर कंपनी में सीएमडी राधेश्याम, नेशनल डिस्ट्रीब्यूटर सुंदर कानून के शिकंजे से बाहर नहीं निकल पाए हैं। हालांकि कुछ केसों में जमानत मिल चुकी है मगर कई मुकदमों में जमानत याचिका खारिज हो चुकी है या फिर गिरफ्तारी लंबित है। ऐसे में प्रकरण के दौरान तेलंगाना पुलिस की कार्रवाई से सहमे कंपनी के प्रमोटर्स भूमिगत हो गए थे, मगर पिछले कुछ दिन से फिर से सक्रिय हो गए हैं। इसके लिए यू-ट्यूब का सहारा लिया है, जिस पर लेटेस्ट न्यूज बताकर वीडियो अपलोड कर कई भ्रामक प्रचार रहे हैं। वहीं सिरसा एसआईटी के अलावा तेलंगाना की साइबराबाद सिटी के कमिश्नर ऑफ पुलिस वीसी सजनार आरोपियों के रिहा होने, कार्यालय पर लगी सील खोलने व केस खारिज हाेने के दावों को नकार रहे हैं। 



-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Suggested News

Loading...

Advertisement

Popular News This Week

 
-->