Advertisement

नोटा आंदोलन जारी है, घर के बाहर लगा दिया बोर्ड | MP ELECTION NEWS



भोपाल। मध्यप्रदेश में सपाक्स संगठन द्वारा चुनाव लड़ने का ऐलान करने के बाद भी सवर्ण एवं पिछड़ा वर्ग के लोगों का 'नोटा आंदोलन' जारी है। राजधानी भोपाल के भरत नगर में सवर्ण समाज के लोगों ने अपने घरों के बाहर बोर्ड लगा दिए हैं जिन पर लिखा है कि 'राजनैतिक दल वोट मांगकर शर्मिंदा ना करें।'

भोपाल की ई-8 भरत नगर क़ॉलोनी में हर घर के बाहर ऐसे बैनर-पोस्टर लगे हुए हैं। इन पर लिखा है, 'ये घर सामान्य वर्ग का है-कोई भी राजैनितक दल वोट मांगकर शर्मिंदा ना करें। इसके नीचे लिखा गया है भरत नगर सवर्ण समिति। बता दें कि इस तरह की सूचनाएं मध्यप्रदेश के कई गांव और शहरों में घरों की दीवारों पर लिख दी गईं हैं। 

क्यों नाराज हैं सवर्ण और पिछड़ा वर्ग के लोग
मूलत: भाजपा के वोटर माने जाने वाले इस वर्ग को उम्मीद थी कि भाजपा सरकार बनने के बाद जातिगत आधार पर आरक्षण की समीक्षा की जाएगी परंतु ऐसा नहीं हुआ। उल्टा सीएम शिवराज सिंह ने भड़काऊ बयान दिया कि 'कोई माई का लाल आरक्षण खत्म नहीं कर सकता।' कुछ समय पहले सुप्रीम कोर्ट का फैसला निष्प्रभावी करते हुए पीएम मोदी सरकार ने एससी/एसटी एक्ट में संशाधन का प्रस्ताव किया और संसद में सभी पार्टियों ने इसका समर्थन किया। इसके बाद यह आंदोलन शुरू हुआ। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com