Loading...

आदित्य सिसौदिया IAS बनना चाहता था, रैपर बादशाह बन गया, पढ़िए कहानी | BOLLYWOOD NEWS

बॉलीवुड के गानों में आज रैपिंग काफी पसंद की जा रही है। जिस रैपर के प्रति सबसे ज्यादा लोगों की दीवानगी है वो है रैपर बादशाह। बादशाह शुरू से ही बादशाह नहीं थे, बल्कि उनका असली नाम आदित्य प्रतीक सिंह सिसौदिया है। उन्होंने अपने गानों की शुरूआत 2006 में की थी। उन्होंने ज्यादातर हिंदी, पंजाबी और हरियाणवी भाषा में गाने गाए हैं। बादशाह दिल्ली के रहने वाले हैं। उनकी मां पंजाबी और पिता हरियाणवी हैं। आपको सुनकर हैरत होगी कि आदित्य सिसौदिया कभी भी सिंगर नहीं बनना चाहते थे। वे तो सिविल सर्विस में जाकर आईएएस ऑफिसर बनना चाहते थे, उन्होंने जेनरिक की जॉब भी की है।  लेकिन पंजाब यूनिवर्सिटी में पढ़ाई के दौरान उनकी जिन्दगी में एक ऐसा मोड़ आया जब वे संगीत की तरफ झुकने लगे और संगीत में करियर बनाने का सोचा। 

रैपर बनने के लिए बदला था नाम-

आदित्य सिसौदिया ऐसा नाम बॉलीवुड इंडस्ट्री में बहुत कम सुनने को मिलता है, इसलिए उन्होंने अपना नाम आदित्य सिंह सिसौदिया से बदलकर बादशाह रख लिया। इसके पीछे भी एक बड़ी दिलचस्प वजह है। उन्होंने अपना ये नाम शाहरूख की फिल्म बादशाह को देखने के बाद रखा। एक इंटरव्यू में खुद बादशाह ने इस बात का जिक्र किया है कि जब उन्होंने शाहरूख की फिल्म बादशाह देखी तो वे इस नाम से काफी इंप्रेस हुए और उन्होंने अपना नाम बादशाह रखने का सोचा। उन्होंने इस बात का जिक्र अपने चचेरे भाईयों से भी किया, लेकिन सभी ने उनका मजाक बनाया। लेकिन उन्होंने तय कर लिया था कि म्यूजिक इंडस्ट्री में अपनी पहचान रैपर बादशाह के रूप में ही बनाएंगे। 

करोड़ों के जूते पहनते हैं बादशाह- 

बादशाह को जूतों से इतना प्यार है कि वे इसके लिए कुछ भी कर सकते हैं। हाल ही में उन्होंने एक शो में इस बात का खुलासा किया था कि जो जूते वे शो में पहनकर गए थे उनकी कीमत 1.5 करोड़ थी। ऐसे में आप अंदाजा लगा सकते हैं कि बादशाह के नाम की तरह उनके शौक भी काफी हाई-फाई हैं। बादशाह ने ये भी बताया कि उनकी इस करोड़ों के जूते खरीदने की आदत से उनकी पत्नी बहुत इरीटेट होती है। 

बादशाह की फैन नहीं है उनकी पत्नी-

पूरी दुनिया भले ही बादशाह के रैपिंग की फैन है, लेकिन उनकी पत्नी जैसमीन को बादशाह के गाने जरा भी पसंद नहीं है। आपको एक और सच बता दें कि अपनी बेटी के जन्म लेने से पहले तक बादशाह को बच्चे पसंद नहीं थे। लेकिन बेटी होने के बाद उन्हें बच्चों से बेहद लगाव हो गया।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com