Advertisement

शिवराज सिंह ने लोकार्पण किया था, 12वें दिन कलेक्टर आॅफिस में पानी भर गया | RATLAM MP NEWS



रतलाम। मध्यप्रदेश में निर्माण कार्यों में भ्रष्टाचार के कई मामले सामने आ रहे हैं। यहां ज्योति इंफ्राटेक अहमदाबाद ने नए कलेक्टर कार्यालय का निर्माण किया था। 15 करोड़ 8 लाख रुपए खर्च किए। 12 दिन पहले ही सीएम ने कलेक्टोरेट भवन का लोकार्पण किया। 21 सितंबर को हवन-पूजन करवाया। शुक्रवार 21 सितम्बर को इसकी शिफ्टिंग हुई थी और पता चला कि ईवीएम का स्ट्रांग रूम पानी से लबालब है। निर्माण कंपनी गुजरात की इसलिए कोई कठोर कार्रवाई नहीं की गई। कंपनी ने जहां से पानी गिर रहा है वहां तिरपाल लगा दिया है। कुछ रोज पहले शिवपुरी जिले में एक पुल पानी में बह गया था। 

कलेक्टर रुचिका चौहान ने बताया रविवार शाम 4.30 बजे नए कलेक्टोरेट में सामान शिफ्ट करने के दौरान मैं अधिकारियों के साथ निरीक्षण कर रही थीं। हमने स्ट्रांग रूम के बाहर पानी देखा तो तत्काल राजनीतिक पार्टियों के पदाधिकारियों को बुलाकर ईवीएम पास वाले स्ट्रांग रूम में रखवाई। रविवार को कलेक्टर ने राज्य चुनाव आयोग को स्ट्रांग रूम में पानी चले जाने की सूचना दी।

डेढ़ माह पहले से रखी थीं EVM
ठेका कंपनी के प्रोजेक्ट मैनेजर चिराग पटेल (ज्योति इंफ्राटेक अहमदाबाद) ने कबूला कि दो बिल्डिंग के बीच वाले ज्वाइंट में पानी उतरा है। पहले भी ट्रीटमेंट किया था, लेकिन फिर भी पानी बिल्डिंग के अंदर चला गया। इसे फिर ठीक करवाया जा रहा है। बाकी कमरों को चैक किया है। दिक्कत होगी तो ठीक करवाया जाएगा। पानी रोकने के लिए एक्सपांशन पर बरसाती लगाई है। अभी यह जांच करना शेष है कि मशीनों को इससे कोई नुक्सान हुआ या नहीं। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com