Loading...

पैरेंट्स को एक कमरे में बंद कर नाबालिग के साथ पुलिस वाले ने कई महीनों किया दुष्कर्म। CRIME NEWS

REWA: मध्य प्रदेश के रीवा जिले के मऊगंज थाना प्रभारी महेन्द्र मिश्रा को 15 वर्षीय एक किशोरी को शादी का झांसा देकर उससे बलात्कार करने के मामले में न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। मिश्रा की उम्र 45 साल है। उन्होंने लड़की को शादी का झांसा दिया था। पीटीआई के मुताबिक, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (एएसपी) शिव कुमार सिंह ने बताया कि पीड़िता ने शिकायत में कहा है कि उसके घर में ही पिछले कई महीने से रेप किया जा रहा था। इस दौरान आरोपी लड़की के पैरेंट्स को एक कमरे में बंद कर देता था।

एएसपी ने कहा कि 27 जुलाई को मिश्रा ने शादी की बात कहकर लड़की को मऊगंज बुलाया था। यहां एक लॉज में ठहराया और फिर रेप किया। शिव कुमार ने ‘भाषा’ को बताया, ‘15 वर्षीय लड़की को शादी का झांसा देकर दुष्कर्म करने के मामले में मऊगंज थाना प्रभारी उपनिरीक्षक महेन्द्र मिश्रा को रात में गिरफ्तार किया गया।'

मऊगंज के अपर सत्र न्यायाधीश मनीष पाटीदार की अदालत में मिश्रा को पेश किया गया, जहां से उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। मिश्रा पहले से ही शादीशुदा है। पीड़ित 9वीं क्लास में पढ़ाई करती हैं। रीवा जिला मुख्यालय से मऊगंज करीब 60 किलोमीटर दूर है।