SHIVRAJ JI, प्रमाणित कीजिए लक्ष्मीबाई की मौत का जिम्मेदार कौन: कोर्ट केस फाइल

19 June 2018

GWALIOR: मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के खिलाफ ग्वालियर की जिला अदालत में परिवारवाद दायर किया गया है। इसमें उन लोगों के नाम बताने को कहा गया है जिस कारण से झांसी की रानी लक्ष्मी बाई शहीद हुईं थीं। दरअसल 15 जून को ग्वालियर में आयोजित एक कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा था कि झांसी की रानी लक्ष्मीबाई ने ग्वालियर के किले पर कब्जा कर लिया। अपने ही लोगों के कारण उन्हें शहीद होना पड़ा। याचिकाकर्ता ने दायर याचिका में कहा है कि मुख्यमंत्री को उन लोगों के नाम बताना चाहिए। अदालत ने 27 जुलाई को मुख्यमंत्री से अपना पक्ष रखने को कहा है।

बता दें कि इससे पहले भी सीएम शिवराज सिंह चौहान ने रानी लक्ष्मी बाई की शहादत के बहाने ग्वालियर के सिंधिया राजपरिवार पर हमला बोला था। उनके अलावा भाजपा के कई अन्य नेताओं ने भी रानी लक्ष्मी बाई की मौत का जिम्मेदार सिंधिया राजवंश को ही बताया था। इसे लेकर काफी विवाद भी हुआ था। भाजपा की संस्थापक सदस्य राजमाता विजयाराजे सिंधिया की बेटी यशोधरा राजे सिंधिया इसे लेकर काफी नाराज हो गईं थीं। उन्होंने सीएम शिवराज सिंह से दूरी बना ली थी। 

इतिहास में कहीं दर्ज नहीं है सिंधिया की जिम्मेदारी
यह एक चौंकाने वाली बात है कि इतिहास में कहीं भी वो बात दर्ज नहीं है जो कहानियों में सुनाई जाती है, सुभद्रा कुमारी चौहान ने अपनी कविता में जिसे लिखा और जैसा बयान सीएम शिवराज सिंह ने भी दिया। किसी भी मान्य इतिहासकार ने रानी लक्ष्मी बाई की मौत के लिए सिंधिया राजवंश को जिम्मेदार नहीं बताया। सुभद्रा कुमारी चौहान ने भी अपनी कविता में इसकी पुष्टि नहीं की बल्कि उन्होंने लिखा 'बुंदेले हरबोलों के मुंह हमने सुनी कहानी थी' यानी यह प्रमाणित है या नहीं, यह सुभद्रा कुमार चौहान भी नहीं जानतीं। 

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week