एंटी इनकम्बेंसी कुछ नहीं होता, हम ही जीतेंगे: अमित शाह

13 June 2018

जबलपुर। मध्यप्रदेश में चल रही सत्ता विरोधी लहर के संदर्भ में अमित शाह ने कहा कि एंटी इनकम्बेंसी कुछ नहीं होता, रणनीति बनाकर काम कीजिए, मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में इस बार भी हम ही जीतेंगे। अमित शाह जबलपुर में भाजपा की मीटिंग को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने मप्र की आईटी सेल के प्रति नाराजगी जताई। किसानों का मुद्दा कांग्रेस लपक ले गई, इसके लिए उन्होंने मप्र भाजपा की आईटी सेल को जिम्मेदार माना। शाह ने कहा कि 24 घंटे काम करना होगा। इस बार का चुनावी युद्ध सोशल मीडिया पर लड़ा जाएगा। 

विधानसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर मध्य प्रदेश के जबलपुर के भेड़ाघाट में मंगलवार को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, दो केंद्रीय मंत्री समेत संगठन के शीर्ष नेताओं से तीन घंटे तक चर्चा की। इसके बाद आइटी सेल की बैठक ली और कहा कि आप लोग ‘गोला-बारूद’ के साथ सोशल मीडिया पर लड़ाई के लिए तैयार रहें। आप लोगों को 24 घंटे काम करना है, तभी सफलता मिलेगी। शाह ने बैठक में साफ संकेत दिए कि संगठन को मजबूत करें। बूथ स्तर तक कार्यकर्ता जाएं। विधायक, मंत्री जनता के बीच जाएं।

किसान के मुद्दे पर शाह हुए नाराज
किसान को क्या कांग्रेस ने मुद्दा बनाया? यह सवाल शाह ने किया तो आइटी सेल के सदस्यों ने कहा, नहीं। इस पर उन्होंने कहा कि यह गलत है। कांग्रेस इसे मुद्दा बनाने में सफल हुई है। इस पर आप लोगों ने ध्यान नहीं दिया। आप लोग ध्यान रखें।

तीनों राज्य जीतेंगे, बस आप सक्रिय रहिए 
शाह ने कहा कि एंटी इनकम्बेंसी कुछ नहीं होता। हम मप्र, छत्तीसगढ़ और राजस्थान तीनों जीतेंगे, लेकिन इसके लिए रणनीति के तहत तैयारी करनी होगी। मीडिया जब पूछती है कि विपक्ष से कैसे लड़ाई लड़ेंगे तो मैं कहता हूं कि देवगौड़ा, लालू यहां आकर क्या बोलेंगे, बस आप लोग सक्रिय रहिए।

शिवराज सिंह पर जताया भरोसा
शाह ने कहा कि विपक्ष के पास एक-एक साल के 21 दूल्हे हैं, जबकि हमारे पास केवल एक ही दूल्हा है। शाह ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह से अलग कमरे में करीब 45 मिनट तक चर्चा की।
BHOPAL SAMACHAR | HINDI NEWS का 
MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए 
प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week