पिता मजदूर, मां आशा कार्यकर्ता, बेटा 12वीं का टॉपर | मैथ, साइंस कोचिंग के लिए पैसे नहीं थे, आर्ट में टॉप कर लिया

14 May 2018

इंदौर। एमपी बोर्ड भोपाल की हायर सेकंडरी परीक्षा परिणाम के कला संकाय में प्रदेश के टॉपर विद्यार्थियों में शामिल सत्यम दसलानिया के पास गणित या विज्ञान की कोचिंग करने के पैसे नहीं थे, इसलिए उसने कला संकाय में प्रवेश लिया और परिवार की गरीबी की टीस में खूब पढ़ाई कर मुकाम हासिल किया है। शुजालपुर तहसील के ग्राम खरसौदा में रहने वाले दिहाड़ी मजदूर हेमराज सिंह दसलानिया व आशा कार्यकर्ता के रूप में काम करने वाली सुशीलाबाई के बेटे सत्यम ने बचपन से अब तक सरकारी स्कूल में ही पढ़ाई की। 

एक्सीलेंस स्कूल में पढ़ने के लिए गांव व परिवार से दूर शुजालपुर आकर किराए के कमरे में रहा। उसने ठाना कि वह अपनी मेहनत से साबित करेगा कि योग्यता में वह अव्वल है। बस इसी जिद ने उसे हमेशा पढ़ाई पर केंद्रित रखा। मोबाइल-टीवी से दूर रहने के साथ ही शिक्षकों को सफलता का श्रेय दिया। सत्यम दसलानिया ने 500 में से 460 अंक हासिल किए हैं एवं अपनी संकाय की टॉपर लिस्ट में वो 7वें स्थान पर है। 

सत्यम ने बताया पिता को रोज मजदूरी का काम नहीं मिलता। मां आशा कार्यकर्ता के रूप में काम करते हुए जो थोड़े-बहुत रुपए कमाती, उससे 7 सदस्य के परिवार को चलाना मुश्किल देख हमेशा परिवार के लिए सक्षम बन कुछ करने की सोच ने भी ये हौसला दिया। अब पुलिस या किसी अन्य डिफेंस सर्विस में जाने का इरादा है।

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week