नौकरी की तलाश में वक्त ना गवाएं, पान की दुकान लगाएं: मुख्यमंत्री | NATIONAL NEWS

29 April 2018

AGARTALA / TRIPURA NEWS | भाजपा के दिग्गज नेता एवं त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब देब अपने बयानों की वजह से लगातार सुर्खियों में हैं। अब उन्होंने कहा है कि युवा सरकारी नौकरी के लिए नेताओं का चक्कर लगाने के बजाय पान की दुकान खोल लेते तो बेहतर होता। उनके खातों में अब तक 5-10 लाख रुपए आ गए होते। पिछले दो हफ्ते में यह उनका चौथा बयान है जो मीडिया में सुर्खियां बना है। बिप्लब देब ने शनिवार को विश्व पशुपालन दिवस के मौके पर हुए एक कार्यक्रम में कहा, "युवा सरकारी नौकरी के लिए कई साल तक राजनीतिक दलों के पीछे चक्कर लगाते रहते हैं। जिंदगी का महत्वपूर्ण समय यहां-वहां दौड़कर सरकारी नौकरी की तलाश में बर्बाद करते हैं। अगर वे इसकी बजाय पान की दुकान लगा लेते या गाय पाल लेते तो उनके बैंक खाते में अब तक 5-10 लाख रुपए जमा हो जाते। पहले भी दिए थे ये 3 चर्चित बयान

1) महाभारत के वक्त इंटरनेट था
बिप्लब ने 18 अप्रैल को कहा था, "महाभारत युग में भी तकनीकी सुविधाएं थीं, जिनमें इंटरनेट और सैटेलाइट भी शामिल थे। महाभारत के दौरान संजय ने हस्तिनापुर में बैठकर धृतराष्ट्र को बताया था कि कुरुक्षेत्र के मैदान में युद्ध में क्या हो रहा है। संजय इतनी दूर रहकर कैसे देख सकते थे? इसका मतलब है कि उस समय भी तकनीक, इंटरनेट और सैटेलाइट थे।"

2) समझ नहीं आया कि डायना हेडन मिस वर्ल्ड कैसे बनीं
गुरुवार को कहा था, "भारत ने लगातार पांच साल तक मिस वर्ल्ड और मिस यूनिवर्स खिताब जीते थे, लेकिन मैं 1997 के फैसले को नहीं समझ पाया, जब डायना हेडन ने खिताब जीता। क्या आपको लगता है कि खिताब उन्हें मिलना चाहिए था?" 
उनके इस बयान पर विरोध हुआ तो उन्होंने खेद जताते हुए सफाई दी थी। कहा था हर महिला मेरी मां जैसी सम्मानीय है।

3) मैकेनिकल इंजीनियरिंग करने वालों को आईएएस नहीं बनना चाहिए
शनिवार को उन्होंने कहा, "मैकेनिकल इंजीनियरिंग पृष्ठभूमि वाले लोगों को सिविल सेवाओं का चयन नहीं करना चाहिए। समाज का निर्माण करना है। सिविल इंजीनियरों के पास यह ज्ञान है, क्योंकि जो लोग प्रशासन में हैं, उनको समाज का निर्माण करना है।

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Advertisement

Popular News This Week