CM Sir, एकलव्य अतिथि शिक्षकों को भी आपकी घोषणाओं का लाभ दिलाएं - Khula khat

आदरणीय मुख्य मंत्री महोदय जी, सविनय निवेदन है कि हम  एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय के अतिथि शिक्षक विगत वर्षों से अति विषम परिस्थितियों मे देश की सबसे पिछड़े हुए तबके अनुसूचित जनजाति के बच्चों को शिक्षा प्रदान कर रहें हैं। 

आवासीय विद्यालय में कार्य करने वाले शिक्षक, शिक्षक के साथ साथ अभिभावक की भूमिका का भी निर्वाहन बखूबी करते रहें हैं। लेकिन किसी नीति या योजना के आभाव में प्रतिवर्ष हमें पुनः चयन प्रक्रिया से गुजरना पड़ता है। अतः आपसे पुन: अनुरोध है कि हमें भी अन्य अतिथि शिक्षकों की भांति सभी लाभ प्रदान किए जाए।
जंगलों में जाकर विषम परिस्थितियों में अपने परिवार को छोड़कर शिक्षा का अलख जगाने वाले अतिथि शिक्षकों के जीवन में भी स्थायित्व का प्रकाश प्रदान कीजिए। 

हम आपसे अलग से कुछ नहीं मांग रहे,जो योजना स्टेट में लाई गई है, उसमें हमें भी शामिल करने का कष्ट करें। वैसे भी स्टेट की भर्ती में हमारे एकलव्य स्कूल का अनुभव मान्य है, तो अन्य लाभ भी प्राप्त हो। आपकी उदार अनुकंपा से लगभग 1200 परिवार आपके सदैव ऋणी रहेंगे। अभिलाषी, एकलव्य अतिथि संघ 

अस्वीकरण: खुला-खत एक ओपन प्लेटफार्म है। यहां मध्य प्रदेश के सभी जागरूक नागरिक सरकारी नीतियों की समीक्षा करते हैं। सुझाव देते हैं एवं समस्याओं की जानकारी देते हैं। पत्र लेखक के विचार उसके निजी होते हैं। इससे पूर्व प्रकाशित हुए खुले खत पढ़ने के लिए कृपया Khula Khat पर क्लिक करें. यदि आपके पास भी है कुछ ऐसा जो मध्य प्रदेश के हित में हो, तो कृपया लिख भेजिए हमारा ई-पता है:- editorbhopalsamachar@gmail.com 

✔ पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार पढ़ने के लिए कृपया यहां क्लिक कीजिए। ✔ इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें। ✔ यहां क्लिक करके हमारा टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें।  ✔ यहां क्लिक करके व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन कर सकते हैं। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल - व्हाट्सएप ग्रुप पर कुछ स्पेशल भी होता है।

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !