आज शाम का चांद देखिए, यह आकृति दिखी तो मनोकामना पूर्ति होगी- NEWS TODAY

यदि आप चाहते हैं कि आपकी एक मनोकामना की पूर्ति हो। आपके जीवन में भी चमत्कार हो तो आज दिनांक 23 जनवरी 2023 को शाम सूर्यास्त के ठीक बात पश्चिम दिशा की ओर देखिए। आपको चांद दिखाई देगा लेकिन चंद्रमा के साथ कुछ विशेष आकृतियां भी दिखाई देंगी। यह आकृतियां केवल भाग्यशाली लोगों को दिखाई देंगी और जिन्हें दिखाई देंगी यदि वह दर्शन करते समय प्रार्थना करेंगे तो उनकी एक मनोकामना की पूर्ति होगी। इस तरह की बातें की जा सकती है और कुछ लोगों के जीवन में सच में चमत्कार हो सकता है परंतु यह आकृतियों के कारण नहीं होगा क्योंकि यह एक खगोलीय घटना है। जो निश्चित है और जिसकी भी आंखें ठीक है उसे दिखाई देगी। आसमान में बादल हुए तो नहीं दिखाई दे सकता। 

बड़ी खबर- आज आप अपनी आंखों से देख सकते हैं शुक्र और शनि ग्रह

कार्यालय शासकीय जीवाजी वेधशाला उज्जैन की ओर से बताया गया है कि, पृथ्वी पर निवास करने वाले मनुष्यों को अंतरिक्ष में चन्द्रमा- शुक्र व शनि ग्रह युति अपनी आंखों से दिखाई देगी। सूर्यास्त के ठीक बाद पश्चिम दिशा में आपको हंसिया के आकार का चंद्रमा दिखाई देगा। चंद्रमा के ठीक नीचे दक्षिण की ओर लड्डू के समान चमकता हुआ शुक्र ग्रह दिखाई देगा और उसके ठीक नीचे आप शनि ग्रह को देख सकेंगे। पृथ्वी पर भौगोलिक परिस्थितियों के कारण दर्शन का समय अलग-अलग होगा लेकिन तीन ग्रहों की युति के यह दर्शन डेढ़ घंटे तक किए जा सकेंगे। 

चमत्कार नहीं विज्ञान है, आंखों से देखिए और आनंद लीजिए 

अंतरिक्ष में इस तरह की कई घटनाएं होती रहती हैं और खगोल वैज्ञानिक नियमित रूप से इसकी सूचनाएं भी देते रहते हैं। समस्या यह है कि आम आदमी कुछ खास श्रेणियों के समाचारों में ही रुचि रखते हैं। विज्ञान की बातें समझना नहीं चाहते यही कारण है कि इस तरह के समाचारों का उपयोग कुछ शरारती तत्व कर लेते हैं। यदि एक साथ कई लोगों को यही जानकारी दी जाए और सबको बताया जाए तो स्वाभाविक है कि कुछ की मनोकामना पूरी हो ही जाएगी एवं इसका क्रेडिट कुछ शरारती तत्व को मिल जाएगा। इससे पहले कि वह शरारती तत्व आपके परिजनों को मिस गाइड करें। आप खुद उन्हें इसकी जानकारी दें और आज की खगोलीय घटना का आनंद लें।

✔ इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें एवं यहां क्लिक करके हमारा टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल पर कुछ स्पेशल भी होता है।