कमलनाथ की गवाही के बाद भाजपा मीडिया प्रमुख लोकेंद्र पाराशर दोषमुक्त- MP NEWS

भोपाल
। मध्यप्रदेश में कांग्रेस पार्टी के सबसे बड़े नेता, सीएम कैंडिडेट और प्रदेश अध्यक्ष श्री कमलनाथ की गवाही के बाद भारतीय जनता पार्टी के मीडिया प्रमुख लोकेंद्र पाराशर जनता की अदालत में दोषमुक्त हो गए हैं। अब तक उन पर आरोप था कि उन्होंने राहुल गांधी की भारत छोड़ो यात्रा के दौरान एक वीडियो एडिट किया और यात्रा को बदनाम करने की साजिश की। 

लोकेंद्र पाराशर पर क्या आरोप लगा था, रायपुर छत्तीसगढ़ में FIR भी हुई है

भारतीय जनता पार्टी के मीडिया प्रमुख लोकेंद्र पाराशर ने भारत जोड़ो यात्रा का एक वीडियो अपलोड किया था। इस वीडियो में भारत जोड़ो यात्रा के दौरान जब राहुल गांधी कैमरे के नजदीक से गुजरे तब कैमरे के पीछे से किसी ने पाकिस्तान जिंदाबाद का नारा लगाया। कांग्रेस पार्टी ने आरोप लगाया कि भाजपा नेता ने वीडियो के साथ छेड़छाड़ की है। यात्रा में इस तरह का कोई नारा नहीं लगाया गया था। इसी आधार पर रायपुर छत्तीसगढ़ में लोकेंद्र पार्षद के खिलाफ आपराधिक प्रकरण दर्ज किया गया। 

कमलनाथ का वह बयान जो लोकेंद्र पाराशर को निर्दोष साबित करता है

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान जब पत्रकारों ने इस वीडियो के बारे में सवाल किया तो कमलनाथ ने बताया कि यात्रा को जो लाइव चल रहा था उसमें से कुछ शॉट कट करके ट्विटर पर अपलोड किए जाते हैं। इसके बाद कमलनाथ ने दलील दी कि भारतीय जनता पार्टी द्वारा भेजे गए किसी शरारती तत्व ने वह नारा लगाया था। 

कुल मिलाकर कमलनाथ के बयान से एक बात स्पष्ट हो गई कि लोकेंद्र पाराशर ने जो वीडियो अपलोड किया था वह एडिट किया हुआ नहीं था। जो वीडियो कांग्रेस पार्टी की मीडिया सेल द्वारा अपलोड किया गया था। लोकेंद्र पाराशर ने वही वीडियो डाउनलोड करके अपनी प्रतिक्रिया के साथ अपने अकाउंट पर अपलोड किया था। श्री पाराशर द्वारा सवाल उठाए जाने पर कांग्रेस पार्टी ने वह वीडियो रिमूव कर दिया और लोकेंद्र पाराशर के खिलाफ FIR दर्ज करवा दी गई।