BHOPAL NEWS- एसआई भदौरिया के खिलाफ SCST Act, क्योंकि उसे छेड़छाड़ से रोका था

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में सब इंस्पेक्टर रिपुदमन सिंह भदौरिया के खिलाफ SCST Act के तहत मामला दर्ज कर लिया गया। इस मामले में फरियादी वह व्यक्ति है जो उनकी बेटी के साथ छेड़छाड़ कर रहा था और एसआई भदौरिया ने उसे ऐसा करने से रोका था। उन्होंने भोपाल पुलिस कमिश्नर से इस मामले की जांच कराने का निवेदन किया है। 

 इस घटना के वीडियो एविडेंस भी है, क्योंकि विवाद के समय कुछ लोगों ने वीडियो बनाई थी और जिस व्यक्ति ने स्वयं को पीड़ित बताते हुए मामला दर्ज करवाया है उसकी तरफ से भी घटना के समय लगातार वीडियो रिकॉर्डिंग की जा रही थी। श्री भदौरिया ने बताया कि उनकी बेटी रात 10:30 बजे कॉलोनी में अपने घर की तरफ आ रही थी। यहीं पर उनके पड़ोसी सुदामा अपने घर के बाहर शराब का सेवन कर रहे थे। 

नशे की हालत में उन्होंने उनकी बेटी की स्कूटी के सामने खड़े हो गए और उसका हाथ पकड़कर आपत्तिजनक हरकत करने लगे। बेटी ने तत्काल इसकी जानकारी घर पर आ कर दी। सब इंस्पेक्टर भदौरिया ने कहा कि पड़ोसी होने के कारण मैं उनको समझाने के लिए निहत्था घर से बाहर निकला। मेरे कहने पर पड़ोसी गाली गलौज करने लगे एवं वही पड़ा हुआ एक फावड़ा उठाकर मुझे मारने के लिए दौड़े। नशे की हालत में होने के कारण गिर गया और उन्हीं के फावड़े से उन्हें चोट लग गई। 

इस बात का व वकील होने का फायदा उठाकर वह पीपुल्स हॉस्पिटल में भर्ती हो गए और छोला मंदिर थाना पुलिस पर दबाव बनाकर झूठा मामला दर्ज करवा दिया। उल्लेखनीय है कि एसआई भदौरिया की बेटी की शिकायत पर पड़ोसी वकील सुदामा के खिलाफ छेड़छाड़ का मामला दर्ज किया गया है। 

सब इंस्पेक्टर रिपुदमन सिंह भदौरिया का कहना है कि पड़ोसी होने के कारण वह केवल चेतावनी देकर मामला खत्म करना चाहते थे परंतु उनके पड़ोसी ने अपने अनुसूचित जाति के होने का फायदा उठाने के लिए कानून का दुरुपयोग किया है। अपनी बेटी के साथ छेड़छाड़ करने वाले व्यक्ति से दुनिया का कोई भी पिता विनम्रता पूर्वक बात नहीं करता।

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !