मध्यप्रदेश के गांव-गांव में होगी फिल्मों की शूटिंग, मेकर्स के लिए गजट नोटिफिकेशन- MP NEWS

68वें नेशनल फिल्म अवॉर्ड्स में मध्य प्रदेश को लगातार दूसरी बार मोस्ट फिल्म फ्रेंडली स्टेट का अवार्ड मिलने के बाद मध्य प्रदेश सरकार ने फिल्म और वेब सीरीज मेकर्स के लिए मध्य प्रदेश की शासकीय सेवाओं को और अधिक सरल बना दिया है। शूटिंग की परमिशन को लोक सेवा गारंटी योजना में शामिल कर लिया गया है। आवेदन के 15 दिन के भीतर शूटिंग की परमिशन मिल जाएगी। 

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, मध्यप्रदेश में फिल्मों की शूटिंग को प्रोत्साहित करने के लिए मध्यप्रदेश फिल्म पर्यटन नीति- 2020 लागू कर चुके हैं। इंदौर-भोपाल समेत ओरछा, रायसेन और सीहोर में फिल्म सिटी का निर्माण भी प्रस्तावित है। मध्यप्रदेश में केवल बॉलीवुड की फिल्में, वेब सीरीज और टीवी सीरियल की शूटिंग नहीं हुई है बल्कि इंदौर की शंकरगढ़ पहाड़ी पर ऑस्ट्रेलियन फिल्म 'शेरू द लायन' की शूटिंग हो चुकी है। 

आज से पहले तक मध्य प्रदेश में फिल्मों की शूटिंग के आवेदन पर निर्णय करने के लिए 45 दिन का समय निर्धारित किया गया था परंतु लोक सेवा गारंटी अधिनियम के तहत आ जाने के कारण अब 15 दिन के भीतर शूटिंग की परमिशन मिलेगी। उल्लेखनीय है कि मध्य प्रदेश में अब तक 150 से ज्यादा फिल्मों और वेब सीरीज की शूटिंग हो चुकी है।

सन 2021 में 22 फिल्मों की शूटिंग

पिछले साल 2021 में करीब 22 फिल्म, वेब सीरीज और शॉर्ट फिल्मों की शूटिंग मध्यप्रदेश की अलग-अलग लोकेशंस पर हुई। हुमा कुरैशी की वेब सीरीज ‘महारानी’ की शूटिंग भोपाल में हुई, जबकि पिपरिया में नुसरत भरुचा की फिल्म ‘छोरी’ और गैंगस्टर विकास दुबे पर बन रही फिल्म की शूटिंग हुई।