BHOPAL शताब्दी एक्सप्रेस 3 स्टेशनों पर नहीं रुकेगी, यात्रियों का समय बचेगा- NEWS TODAY

भारतीय रेलवे के कुछ अधिकारियों ने ज्यादा पैसा कमाने के लालच में भोपाल शताब्दी एक्सप्रेस का कचरा कर दिया था। अब उसकी सफाई की तैयारी की जा रही है। दिल्ली भोपाल शताब्दी एक्सप्रेस रास्ते के 3 छोटे स्टेशनों पर नहीं रुकेगी। इससे भोपाल के यात्रियों का समय बचेगा। 

यहां उल्लेख करना अनिवार्य है कि दिल्ली भोपाल शताब्दी एक्सप्रेस कुछ विशेष प्रकार के रेल यात्रियों के लिए शुरू की गई थी। विशेष रुप से केंद्र एवं राज्य सरकार के प्रशासनिक अधिकारी जिन्हें दिल्ली से भोपाल या भोपाल से दिल्ली दौरे पर जाना हो। केंद्र एवं राज्य सरकार की जन प्रतिनिधि और इनके अलावा ऐसे यात्री जो अपना समय बचाना चाहते हैं। इसीलिए शताब्दी एक्सप्रेस एक चेयर कार है। शताब्दी एक्सप्रेस में उन पर्यटकों का भी ध्यान रखा गया है जो दिल्ली से आगरा, मथुरा, ग्वालियर एवं झांसी की यात्रा करते हैं। 

कुछ समय पहले रेलवे की कुछ अधिकारियों द्वारा पैसा कमाने के लिए शताब्दी एक्सप्रेस को अन्य सामान्य एक्सप्रेस ट्रेनों के जैसा बना दिया गया। यात्रियों का अतिथि सत्कार और भोजन की क्वालिटी में कमी की गई। ट्रेन के इंटीरियर को ठीक नहीं किया गया। यहां तक की कुर्सियों के कवर की नियमित रूप से धुलाई भी नहीं की गई। पैसा कमाने के लिए धौलपुर, मुरैना और ललितपुर जैसे स्टेशन पर शताब्दी एक्सप्रेस का स्टॉपेज बना दिया गया। 

खबर मिली है कि अब लौट कर बुद्धू घर आ रहे हैं। उपरोक्त तीनों स्टॉपेज बंद किए जा रहे हैं, क्योंकि विद्वान अधिकारियों का कैलकुलेशन फेल हो गया है। एक स्टॉपेज पर ₹25000 प्रतिदिन का खर्च हो रहा है और प्रतिदिन यात्रियों की औसत संख्या 20 से कम है।