MP TRIBAL शिक्षक नियुक्ति में गड़बड़ी हो गई, SELECTED CATEGORY सुधारें- Khula Khat

श्रीमान आयुक्त महोदय, जनजातीय कार्य विभाग मप्र। निवेदन है कि संभागीय उपायुक्त अनुसूचित जाति एवं जनजातीय कार्य विभाग शहडोल, जबलपुर, इंदौर, उज्जैन, नर्मदापुरम्, चंबल, रीवा संभाग द्वारा क्रमशः 27,28,29 जुलाई 2022 को नवीन माध्यमिक शिक्षक विषय संस्कृत के नियुक्ति आदेश जारी किये गये हैं। 

यह कि trc.mponline.gov.in द्वारा पात्र अभ्यर्थियों की काउंसलिंग की गई थी, जिसमें ur/x/op कैटेगरी वाले अभ्यर्थियों को 123.48 प्राप्तांक तथा 152 रैंक तक ही प्रतीक्षा सूची में शामिल किया गया था, परन्तु जो नियुक्ति आदेश जारी किये गये हैं, उनमें ऐंसे अभ्यर्थियों को ur/x/op  में नियुक्त किया गया है जो सिर्फ उनकी आरक्षित कैटेगरी में ही पात्र हैं, ur/x/op में पात्र नहीं हैं। 

क्योंकि नियुक्त किये गये अभ्यर्थियों के प्राप्तांक बहुत ही कम हैं और रैंक 2300 से 11000 तक लगभग है। इसका परीक्षण trc.Mponline.gov.in पर उपलब्ध प्रतीक्षा सूची और tribal.mp.gov.in पर उपलब्ध नियुक्ति आदेशों की सूची द्वारा किया जा सकता है। 

विभाग द्वारा यदि उक्त त्रुटि में सुधार कर लिया गया हो तो अभ्यर्थियों को trc.mponline.gov.in और tribal.mp.gov.in के माध्यम से अवगत कराने का कष्ट करें। 

विभाग द्वारा अभ्यावेदन प्रस्तुति हेतु पर्याप्त समय नहीं दिया 17,18 अगस्त को अभ्यावेदन प्रस्तुत करना था, परन्तु उस समय मप्र में हर जगह भारी वर्षा और बाढ़ की स्थिति थी और आवागमन के सभी मार्ग अवरुद्ध थे अतः श्रीमान जी अभ्यावेदन प्रस्तुत करने हेतु पर्याप्त समय प्रदान करें।

जिनकी नियुक्ति अन्य कैटेगरी में हुई है और नाम अन्य कैटेगरी की प्रतीक्षा सूची में था उन सभी भाई-बहनों से विनम्र अपील करता हूँ कि वह सभी अपने आपत्ति अभ्यावेदन विभाग के कार्यालय में प्रस्तुत करें, क्योंकि हाईकोर्ट द्वारा भविष्य में ऐंसी सभी नियुक्तियाँ निरस्त की जा सकती हैं और पुनः नियुक्ति में अनेक समस्याओं का सामना करना पड़ेगा और अन्य वैधानिक कार्रवाई या पात्रता निरस्त भी हो सकती है, अतः सभी अपनी सिलेक्टेड कैटेगरी की जाँच कर सुधार करवा लें। 

श्रीमान आयुक्त महोदय से पुनः प्रार्थना है कि उक्त प्रकरण पर त्वरित कार्रवाई करने की कृपा करें। धन्यवाद, निवेदक, आचार्य धर्मेन्द्र भारद्वाज पिपरई, अनारक्षित वर्ग मप्र 

अस्वीकरण: खुला-खत एक ओपन प्लेटफार्म है। यहां मध्य प्रदेश के सभी जागरूक नागरिक सरकारी नीतियों की समीक्षा करते हैं। सुझाव देते हैं एवं समस्याओं की जानकारी देते हैं। पत्र लेखक के विचार उसके निजी होते हैं। इससे पूर्व प्रकाशित हुए खुले खत पढ़ने के लिए कृपया Khula Khat पर क्लिक करें. यदि आपके पास भी है कुछ ऐसा जो मध्य प्रदेश के हित में हो, तो कृपया लिख भेजिए हमारा ई-पता है:- editorbhopalsamachar@gmail.com