MP NEWS- मुख्यमंत्री एवं उनकी पत्नी ने बाढ़ का खतरा टालने नर्मदा नदी से प्रार्थना की

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एवं उनकी पत्नी श्रीमती साधना सिंह चौहान ने आज नर्मदा पुरम के सेठानी घाट पहुंचकर मां नर्मदा से प्रार्थना की। मान्यता है कि यदि किसी गांव का मुखिया इस प्रकार से प्रार्थना करता है तो उसके गांव में बाढ़ नहीं आती। 

उल्लेखनीय है कि मध्यप्रदेश में नर्मदा नदी का जलस्तर खतरे के निशान के पास पहुंच चुका है। आसपास के इलाकों में जलभराव शुरू हो गया है। सभी बांध फुल टैंक लेवल पर हैं। हालात काफी गंभीर हो गए हैं। यदि तत्काल बारिश नहीं रुकी परिस्थिति को नियंत्रित कर पाना मुश्किल हो जाएगा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने लोगों से अपील की है कि प्रशासन के निर्देशों का पालन करते हुए अपने एवं पालतू पशुओं के जीवन की रक्षा के लिए उचित कदम उठाएं। 

मध्यप्रदेश में मुख्य सचिव से लेकर कलेक्टर तक सब हाई अलर्ट मोड पर हैं

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने बताया कि विदिशा एवं बालाघाट जिलों में जलभराव के कारण कुछ लोग फंस गए थे। सभी को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है। उन्होंने बताया कि प्रशासन हाई अलर्ट मोड पर है। लोगों से अपील है कि वह हालात को नियंत्रण में लाने के लिए प्रशासन की मदद करें।