कथित प्रगति पेट्रोल पंप भोपाल के वायरल VIDEO पर विश्वास नहीं, फिर से जांच होगी - BHOPAL NEWS

भोपाल।
मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के प्रतिष्ठित प्रगति पेट्रोल पंप से संबंधित एक वीडियो वायरल हुआ है। इसमें बताया गया है कि मशीन को 2 लीटर पेट्रोल के लिए सेट किया गया लेकिन 1800 एमएल पेट्रोल निकला। इस वीडियो पर भारत पेट्रोलियम कंपनी और नापतोल डिपार्टमेंट में विश्वास नहीं किया। दोनों का कहना है कि हम अपने तरीके से जांच करेंगे। यहां उल्लेख करना अनिवार्य है कि इस पेट्रोल पंप पर कोई डीलर नहीं है, इसका संचालन भारत पेट्रोलियम कंपनी स्वयं कर रही है।

₹200 के पेट्रोल में ₹40 की चोरी ?

शिवाजी नगर के रहने वाले शुभांकर सिंह ने यह वीडियो वायरल किया है। दैनिक भास्कर के पेज क्रमांक 3 पर इससे संबंधित समाचार प्रकाशित हुआ है। वायरल वीडियो में बताया गया है कि पेट्रोल पंप की मशीन में 2 लीटर फिक्स किया गया लेकिन जब पारदर्शी जार में पेट्रोल डाला गया तो 1800 एमएल था। यानी 20% पेट्रोल कम निकला। नापतोल विभाग के इंस्पेक्टर गोविंद रायकवार का कहना है कि शिकायत प्राप्त हो गई है। हम अपने तरीके से जांच करेंगे और यदि गड़बड़ी मिली तो कार्रवाई करेंगे। 

Pragati Petrol Pump Bhopal पर भारत पेट्रोलियम कंपनी का पेट्रोल बेचा जाता है और कानूनी रूप से कंपनी की जिम्मेदारी होती है कि वह पेट्रोल पंप के नियमानुसार संचालन की व्यवस्था सुनिश्चित करें। सेल्स ऑफिसर प्रतीक गायकवाड का बयान छपा है। उनका कहना है कि केवल 5 लीटर के जार में होने वाली जांच को सही माना जाता है। इसलिए हम दोबारा जांच करेंगे। 

कितनी अजीब बात है, भारत पेट्रोलियम कंपनी के नियम अनुसार 5 लीटर से कम वाले जार में यदि पेट्रोल कम निकलता है तो कंपनी उसे गलत नहीं मानती। मशीन इलेक्ट्रॉनिक से और इसमें कुछ भी किया जा सकता है। इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियर मृदुल त्रिवेदी का कहना है कि इस बात की बिल्कुल संभावना है कि केवल 5 लीटर का आर्डर देने पर 100% डिलीवरी मिले और बाकी सब में कुछ और।