CM RISE के प्राचार्यों को नेता, पत्रकार और असामाजिक तत्वों का सामना करना सिखाया- MP NEWS

भोपाल
। जनजातीय कार्य विभाग द्वारा  आरसीवीपी नरोन्हा प्रशासन अकादमी में सीएम राइज स्कूलों के नवनियुक्त प्राचार्यों के पाँच दिवसीय 'लीडरशिप एंड मैनेजमेंट' प्रशिक्षण शिविर के आखिरी दिन साइकोलॉजिस्ट श्रीमती प्रिया सोनपर ने 'स्ट्रेस मैनेजमेंट' विषय पर जानकारी दी। स्ट्रेस मैनेजमेंट यानी तनाव की स्थिति का सामना करना। मध्यप्रदेश में एक स्कूल प्राचार्य को सबसे ज्यादा है स्थानीय नेता, पत्रकार और असामाजिक तत्व तनाव देते हैं। कभी-कभी वरिष्ठ अधिकारी या अधीनस्थ कर्मचारी भी तनाव का कारण बन जाते हैं।

प्रशिक्षण शिविर के माध्यम से प्राचार्यों को 'वर्कलाइफ बैलेंस' और खुशहाल जीवन जीने के टिप्स दिए गए। श्रीमती सोनपर ने स्ट्रेस मैनेजमेंट सत्र के दौरान प्राचार्यों को बेहतर लाइफ जीने और स्ट्रेस के विभिन्न प्रकारों के बारे में बताया। उन्होंने कहा की स्ट्रेस की छोटी-छोटी वजहों को इकट्टठा न करें, उनके निराकरण को टालें नहीं और ना ही ओवर थिंकिंग करें। इस अवसर पर प्राचार्यों से फील-गुड वाले अनाम लेटर्स भी लिखवाए गए। केस स्टडी के माध्यम से स्ट्रेस मैनेजमेंट्स के कई आसान टिप्स भी दिए गए।  

सत्र के बाद सभी  प्राचार्यों को सुभाष उत्कृष्ट विद्यालय शिवाजी नगर, सीएम राइज़ शासकीय विद्यालय बरखेड़ी और एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय (गुरुकुलम्) बावड़िया कलां का भ्रमण करवाया गया। प्रशिक्षण का उद्देश्य प्राचार्यों में बेहतर लीडरशिप और मैनेजमेंट स्किल्स का विकास करना था, ताकि वे उसे सी.एम. राइज़ स्कूल में लागू कर परिणामों में सकारात्मक बदलाव ला सकें। इस अवसर पर संभागीय उपायुक्त सीमा सोनी व जेपी यादव उपस्थित रहे।