मध्य प्रदेश मानसून- 23 जिलों में भारी बारिश, बज्रपात का खतरा- MP WEATHER FORECAST

भोपाल
। भारत मौसम विज्ञान विभाग द्वारा जारी मौसम का पूर्वानुमान एवं किसान मौसम बुलेटिन के अनुसार मध्य प्रदेश के 23 जिलों में भारी बारिश की संभावना है। आम नागरिकों के लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है। इसके अलावा कई जिलों में बज्रपात का खतरा बना हुआ है।

मध्य प्रदेश मौसम का पूर्वानुमान- MP WEATHER FORECAST

मौसम केंद्र भोपाल के अनुसार जबलपुर, कटनी, नरसिंहपुर, मंडला, सिवनी, बालाघाट, छिंदवाड़ा, डिंडौरी, नर्मदापुरम, हरदा, बैतूल, सीहोर, रायसेन, उज्जैन, धार, नीमच, मंदसौर, डिंडोरी, अनूपपुर, सागर, शिवपुरी, गुना, अशोकनगर जिलों में भारी वर्षा होगी। इन जिलों में कुछ स्थानों पर 115 मिलीमीटर (लगभग 5 इंच) तक बारिश हो सकती है। निचले इलाकों में पानी भर जाएगा। बरसाती नदी नालों में बाढ़ आ सकती है। 

मध्य प्रदेश मौसम विभाग की चेतावनी

उपरोक्त सभी जिलों के लिए मौसम विभाग में येलो अलर्ट जारी किया है। इसके अलावा नर्मदापुरम, भोपाल, जबलपुर एवं शहडोल संभागों के जिलों में तथा उज्जैन, रतलाम, शिवपुरी, गुना, आगर, खण्डवा, खरगौन, बुरहानपुर, सागर, दमोह जिलों में बारिश के अलावा बज्रपात का खतरा बना हुआ है। याद रखिए इस सीजन में अब तक 90 से ज्यादा लोगों की मृत्यु हो चुकी है। जबकि पिछले साल पूरे सीजन में 165 लोगों की मृत्यु हुई थी। कृपया सावधान रहें। 

भारी वर्षा एवं गरज चमक के समय सावधानियाँ

1. इलेक्ट्रानिक और बिजली के उपकरणों को उपयोग करने से बचे / अनप्लग कर दें। 2. दो पहिया वाहनों के उपयोग से बचे और पेड़ों के नीचे आश्रय ना ले।
3. बज्रपात के समय अगर आप पानी मे हैं तो तुरंत बाहर आ जाए।
4. भारी वर्षा के दौरान रेन कोट और छाते का उपयोग करें। 
5. भारी वर्षा के दौरान निचले हिस्सों में जलभराव की संभावना ।

मध्य प्रदेश मौसम की रिपोर्ट 

पिछले 24 घन्टो के दौरान प्रदेश के भोपाल नर्मदापुरम एवं जबलपुर संभागों के जिलों में अधिकांश स्थानो पर सागर, शहडोल, ग्वालियर चंबल, इंदौर एवं उज्जैन संभागों के जिलों में अनेक स्थानो पर तथा रीवा संभाग के जिलों में कही कही वर्षा दर्ज की गई।

वर्षा के प्रमुख आंकडे (सेमी मे) :- 
सौसर 22, नवीबाग, शमशाबाद 14, भोपाल एयरपोर्ट 13, श्यामपुर 12, चाचौडा, मोहखेडा 11, रेहटी 10, ग्यारसपुर, भोपाल शहर 8 बेगमगंज, कुंभराज, कोलार, हर्राई 7, अमरवाडा, इछावर, विदिशा, नलखेडा, पिछोर, सीहोर, नरसिंहगढ 6 सेमी।

छत्तीसगढ़ में गरीबों के राशन से भरा ट्रक माचिस की डिबिया की तरह बह गया