17 जुलाई को शक्तिमान के अवतार में रहेंगे कमलनाथ- MP NEWS

भोपाल
। यह बिल्कुल नया है, मतलब! मध्य प्रदेश की राजनीति में इससे पहले कभी नहीं हुआ। मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने ऐलान किया है कि उनके नेता कमलनाथ अपने हेलीकॉप्टर और लीगल टीम के साथ तैयार रहेंगे। नगर पालिका नगर निगम चुनाव की काउंटिंग में कहीं भी गड़बड़ हुई तो तत्काल पहुंच जाएंगे। 

सबसे पहले मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी का प्रेस नोट पढ़िए

कमलनाथ जी ने 17 जुलाई को प्रदेश के 11 नगर निगमों में होने वाली मतगणना के लिए विशेष व्यवस्था की है। मतगणना के दिन श्री कमलनाथ भोपाल में बनाए गए विशेष चुनाव कंट्रोल रूम में बैठकर पूरे प्रदेश की मतगणना पर नजर रखेंगे। इसके साथ ही प्रदेश के प्रमुख नेताओं के साथ मोबाइल पर संवाद के लिए भी मौजूद रहेंगे। श्री मिश्रा ने बताया कि मतगणना के दौरान किसी भी शहर में किसी तरह की गड़बड़ी होने की सूचना मिलने पर श्री कमलनाथ अपनी वरिष्ठ अधिवक्ताओं की लीगल टीम के साथ विशेष हेलीकॉप्टर से तत्काल उस शहर में पहुंच जाएंगे। इसके लिए हेलीकॉप्टर भी विशेष रूप से तैयार रहेगा और पूरी लीगल टीम भी नियम, कानून कायदे के दस्तावेजों के साथ तैयार रहेगी। (इसके अलावा और भी बहुत बहुत कुछ है, जो विपक्षी पार्टी के प्रेस नोट में होता है) 

सोचने वाली बात है कि 🤔

  • चुनाव कंट्रोल रूम, चुनाव कंट्रोल रूम होता है इसमें विशेष क्या होता है। 
  • बताया है कि श्री कमलनाथ प्रमुख नेताओं के साथ मोबाइल पर संवाद के लिए मौजूद रहेंगे, मतलब सामान्य दिनों में प्रमुख नेताओं से भी बात नहीं करते क्या। 
  • लिखा है, किसी भी जगह गड़बड़ी हुई तो अपने हेलीकॉप्टर से तत्काल पहुंच जाएंगे। मतलब, जिस भवन में मतगणना हो रही होगी उसकी छत पर शक्तिमान की तरह उतरेंगे क्या। हमने सुना था हेलीकॉप्टर को उतरने के लिए कलेक्टर की परमिशन की जरूरत होती है। उड़ने से पहले मौसम देखना पड़ता है, उतरने से पहले हेलीपैड बनवाना पड़ता है।

खैर जो भी हो, कमलनाथ हैं, उन्होंने अपनी तैयारी की ही होगी। जब हेलीकॉप्टर के साथ तैयार रहेंगे तो 52 में से 4-5 जिलों में तो जरूर उतरेंगे। मध्यप्रदेश के पत्रकारों, राजनीति में रुचि रखने वालों के लिए यह बिल्कुल नया अनुभव होगा। इस पर सबकी नजर रहेगी।