राजस्व विभाग के कर्मचारियों को हथियार दिए जाने की मांग- MP employees news

जबलपुर
। मध्यप्रदेश अधिकारी कर्मचारी संयुक्त मोर्चा जिलाध्यक्ष अटल उपाध्याय ने बताया है कि सरकारी कर्मचारियों को बिना सुरक्षा के उपकरण दिए खतरनाक स्थानों में डियूटी लगाकर कार्य करवाये जा रहे है। सुरक्षा के लिए अथियार ना होने से यह अपनी सुरक्षा भी नहीं कर पा रहे है। 

वन विभाग,पुलिस और राजस्व विभागों के कर्मचारियों को जंगली जानवरों के बीच,पुलिस कर्मचारियों को गंभीर मुजरिमों को गिरफ्तार करने और राजस्व विभाग के अधिकारियों को जंगली क्षेत्र में खेतों की नपाई करने का कार्य करवाया जा रहा है लेकिन अप्रिय स्थिति से सामना करने के लिए हथियार नहीं दिए जा रहे है।

वाहन चालकों ,समयपालों और उपयंत्रियों के खतरनाक स्थानों पर डियूटी करवाई जा रही जे लेकिन सुरक्षा के लिए किसी भी प्रकार के साधन उपलब्ध नहीं करवाये जा रहे।

मध्यप्रदेश अधिकारी कर्मचारी संयुक्त मोर्चा जबलपुर संरक्षक योगेंद्र दुबे,जिलाध्यक्ष अटल उपाध्याय,धीरेन्द्र सिंह, मुकेश मरकाम,प्रसांत सोंधिया ,रविकांत दहायत, नरेस शुक्ला, संतोष मिश्रा, संजय गुजराल विश्वदीप पटेरिया, यू एस करोसिया,देव दोनेरिया,एस के बांदिल, प्रदीप पटेल,अजय दुबे,योगेंद्र मिश्रा,आसुतोष तिवारी, नरेंद्र सेन,चंदू जाऊ लकर ने सभी विभागों के अधिकारियों से सरकारी कर्मचारियों को सुरक्षा के उपकरण उपलब्ध करवाने की  मांग की है । जिससे हमले से बचाब कर सकें कर्मचारी।